मासिक धर्म के दौरान होने वाली परेशानियों से छुटकारा पाने के घरेलू उपाय, महिलाएं जरूर पढ़ें

कल्याण आयुर्वेद- महिलाओं के लिए मासिक धर्म एक प्राकृतिक प्रक्रिया है जो 12 से 14 साल की उम्र से शुरू होकर 45 से 50 वर्ष की उम्र तक होता है. जिसमें महिलाओं के प्राइवेट पार्ट से हर महीने रक्त स्राव आता है. यह रक्त स्राव 3 से 7 दिन का होता है. रक्त स्राव के समय महिलाओं को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है. अगर महिला का स्वास्थ्य में कोई गड़बड़ी है तो मासिक धर्म एक-दो दिन रहता है या फिर 7 दिन से अधिक भी ब्लडिंग की समस्या हो सकती है. यदि 7 दिन से अधिक ब्लडिंग हो तो इसका उपचार करना आवश्यक होता है.

मासिक धर्म के दौरान होने वाली परेशानियों से छुटकारा पाने के घरेलू उपाय, महिलाएं जरूर पढ़ें

इसके अलावा बहुत सारी महिलाओं को मासिक धर्म से जुड़ी परेशानी होती है. कई महिला को बार-बार मासिक धर्म आने की समस्या होती है तो कई महिलाओं को मासिक धर्म देर से आती है और उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ता है. इससे महिलाओं को कमजोरी हो जाती है जिससे कमर दर्द, चक्कर आना, सिर में दर्द रहना, खून की कमी जैसी समस्याएं होने लगती है.

बताते चलें कि मासिक धर्म के दौरान होने वाली ब्लडिंग महिला के शरीर में जमी गंदगी को दूर करने का काम करती है. इसलिए इसका सही से होना बहुत जरूरी होता है. अगर किसी महिला को ब्लडिंग लगातार 2 से 3 महीने तक हो तो इससे वह गंभीर बीमारियों की चपेट में आ सकती है. अगर आपको मासिक धर्म के दौरान सही से ब्लडिंग ना हो तो बिना देर किए इसे गंभीरता से लें. ऐसे में अपनी डाइट में कुछ चीजों को शामिल करके भी आप इस परेशानी से छुटकारा पा सकते हैं जैसे-

गाजर का जूस- अगर मासिक धर्म के दौरान कम ब्लडिंग होने की समस्या रहती है तो इसके लिए गाजर का जूस एक अच्छा उपाय है. गाजर में प्रचुर मात्रा में आयरन, विटामिन पाया जाता है जो हमारे हार्मोन के स्तर को संतुलित रखने में मदद करता है. कम फ्लो की परेशानी को दूर करने के लिए रोजाना एक गिलास गाजर का जूस पीना फायदेमंद होगा.

दालचीनी- अगर कम फ्लो की परेशानी हो रही है तो दालचीनी इस समस्या से छुटकारा दिलाने में मददगार होता है इसके लिए प्रतिदिन दालचीनी पाउडर को पानी में उबालकर पी लें. आप चाहे तो दालचीनी का सेवन गर्म दूध के साथ ही कर सकती हैं.

पपीता- मासिक धर्म के दौरान कम ब्लीडिंग से निजात पाने के लिए पपीता का सेवन करना लाभदायक होता है. पपीता के सेवन से रक्त प्रवाह मासिक धर्म में अच्छी तरह से होता है.

अदरक- मासिक धर्म में सही ब्लडिंग ना होने को दूर करने में अदरक ही काफी मददगार साबित होता है. इसके लिए प्रतिदिन दिन में दो बार अदरक को पानी में उबालकर शहद और नींबू का रस मिलाकर पी लें. इससे आपकी कम फ्लो होने की समस्या दूर हो जाएगी.

चुकंदर- शरीर में खून की कमी के कारण भी मासिक धर्म के दौरान परेशानियों का सामना करना पड़ता है और मासिक धर्म के दौरान कम फ्लो होने की समस्या होती है. इसके लिए चुकंदर का जूस पीना फायदेमंद होगा. इससे शरीर में रक्त की कमी पूरी हो जाती है मासिक धर्म खुलकर आने लगता है.

Post a Comment

0 Comments