पेट के बल सोने वाले हो जाए सावधान इन बीमारियों को दावत देती है आपकी ये आदत

कल्याण आयुर्वेद- हर इंसान की सोने का अपना एक अलग तरीका होता है. वैसे तो आमतौर पर हम पीठ के बल ही सोते हैं. हमें पीठ के बल या फिर बाएं करवट लेकर ही सोना चाहिए. मगर कई लोग ऐसे होते हैं जो पेट के बल सोना ज्यादा पसंद करते हैं. आज के इस पोस्ट में हम आपको पेट के बल सोने के कुछ नुकसान बताएंगे.

पेट के बल सोने वाले हो जाए सावधान इन बीमारियों को दावत देती है आपकी ये आदत

तो आइए जानते हैं विस्तार से-

पेट खराब होने की समस्या- यदि आप पेट के बल सोते हैं तो आपको पेट से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं क्योंकि इस तरह से सोने पर पेट का भोजन सही तरह से नहीं पच पाता है और पेट खराब होने की समस्या शुरू हो जाती है.

सिर दर्द की समस्या- जो लोग पेट के बल सोते हैं उन्हें हमेशा सिर दर्द की शिकायत रहती है. असल में होता यह है कि इस पोजीशन में गर्दन मुड़ जाती है और सिर तक ब्लड सही से सप्लाई नहीं हो पाता है.

पिंपल्स की समस्या- पेट के बल सोने से हमारे बॉडी को सही से ऑक्सीजन नहीं मिल पाता है तथा बेड के बैक्टीरिया भी चेहरे के संपर्क में आते हैं. जिस वजह से चेहरे पर पिंपल्स और दाग- धब्बे होने शुरू हो जाते हैं.

पीठ दर्द की समस्या- पेट के बल सोते समय आप की रीड़ की हड्डी की पोजीशन सही नहीं रहती है. इस कारण पीठ दर्द की शिकायत बनी रह सकती है. कभी-कभी पीठ दर्द इतना ज्यादा हो जाता है कि सही तरीके से खड़ा होना या बैठना भी कठिन हो जाता है.

हड्डियों में दर्द की शिकायत- पेट के बल सोने पर बॉडी की पोजीशन सही नहीं रहती है. इस कारण हड्डियों में दर्द की शिकायत भी हो जाती है. यदि आप इस प्रकार से सोते हैं तो आज ही अपनी आदत बदल लीजिए.

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट में जरूर बताएं और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments