मासिक धर्म के दौरान महिलाएं रखें इन बातों का ध्यान, रहेंगे स्वस्थ

कल्याण आयुर्वेद- मासिक धर्म महिलाओं के लिए एक प्राकृतिक प्रक्रिया है जो 12 से 15 साल की उम्र में शुरू होकर 45 से 50 वर्ष की उम्र तक चलता है जो हर महीने 3 से 7 दिनों तक प्राइवेट पार्ट से रक्त स्राव होता है. इस दौरान महिलाओं को कई तरह की शारीरिक एवं मानसिक समस्याओं का सामना भी करना पड़ता है. हालांकि यदि मासिक धर्म में किसी तरह की गड़बड़ी ना हो तो परेशानी महिलाओं को नहीं होती है. मासिक धर्म के दौरान महिलाओं को कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है ताकि उन्हें किसी तरह की परेशानियों का सामना करना पड़े.

मासिक धर्म के दौरान महिलाएं रखें इन बातों का ध्यान, रहेंगे स्वस्थ

चलिए जानते हैं विस्तार से-

सेनेटरी पैड को नियमित रूप से बदलें- मासिक धर्म की स्वच्छता को बनाए रखने के लिए साफ- सफाई का विशेष ध्यान रखना बहुत जरूरी है. इसलिए अपने सेनेटरी पैड को हर 4 से 6 घंटे में जरूर पूरे दिन एक ही पैड का इस्तेमाल करना सेहत के लिए हानिकारक तो है ही इसके अलावा इससे जलन और इन्फेक्शन का खतरा हो सकती है. बायोडिग्रेडेबल सैनिटरी पैड्स का इस्तेमाल कर सकती हैं.

प्राइवेट पार्ट को साफ रखें- प्राइवेट पार्ट का साफ- सफाई पर तो हमेशा ध्यान देना ही चाहिए. लेकिन मासिक धर्म के दौरान उन्हें विशेष ध्यान देने की आवश्यकता होती है. इसलिए अपने प्राइवेट पार्ट को दिन में कम से कम 2 बार ठीक से धोएं. इससे सभी हानिकारक जीवाणु निकल जाएंगे. मासिक धर्म के दौरान अपनी जननांग की विशेष सफाई रखें. हाइजीन बनाए रखने के लिए इस दौरान पेंटीलाइनर्स का उपयोग करें.

अंडर गारमेंट्स साफ पहनें- मासिक धर्म के दिनों में साफ अंडर गारमेंट्स पहने और कुछ घंटों पर बदलते रहे. गंदी पैंटी की वजह से आपको शरीर से गंध तो आती ही रहेगी और साथ ही संक्रमण का खतरा भी बढ़ सकता है. डिस्चार्ज सूखने के लिए ऑर्गेनिक पेंटीलाइनर्स का इस्तेमाल करें. कोशिश करें कि इन दिनों कॉटन के अंडर गारमेंट्स पहनें. इससे त्वचा सॉफ्ट रहेगी.

करें संतुलित आहार का सेवन- मासिक धर्म के दौरान संतुलित और पौष्टिक आहार का सेवन करें. कम से कम 8 से 10 गिलास पानी पीकर खुद को अच्छी तरह से हाइड्रेट रखें. इससे आपको पेट फूलने की समस्या नहीं होगी और आपको आराम भी मिलेगा.

जरूरत पड़े तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएं- अगर आपके मासिक धर्म समय पर नहीं आते हैं, जरूरत से ज्यादा गर्म आती है या मासिक धर्म खुलकर नहीं होता है या मासिक धर्म के दौरान अधिक दर्द की समस्या होती है तो आपको तुरंत डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए.

यह जानकारी अच्छी लगी लाइक, शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments