गर्मियों में हो जाता है कई बिमारियों का खतरा, ऐसे करें बचाव

कल्याण आयुर्वेद- मौसम चाहे कोई भी हो. लेकिन उसके बदलते ही व्यक्ति का इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है. ऐसे में थोड़ी सी भी लापरवाही व्यक्ति की सेहत को परेशानी में डाल सकती है. फिलहाल गर्मियों का मौसम शुरू हो चुका है और अपने साथ धूप तेज तापमान के साथ कई अन्य बीमारियां भी लेकर आता है. आज के इस पोस्ट में हम आपको ऐसे ही कुछ समस्याएं और उनसे बचने के उपाय बताएंगे.

गर्मियों में हो जाता है कई बिमारियों का खतरा, ऐसे करें बचाव

तो आइए जानते हैं विस्तार से-

डिहाइड्रेशन- डिहाइड्रेशन को निर्जलीकरण के नाम से भी जाना जाता है. इससे पीड़ित व्यक्ति के शरीर में पानी शुगर और नमक के संतुलन में गड़बड़ी हो जाती है. इसके लक्षण मुंह सूखना, थकान, प्यास का बढ़ना, पेशाब कम होना, सिर दर्द, रूखी, त्वचा, कब्ज और चक्कर आने जैसे है. यह समस्या गर्मी में ज्यादा होती है इसलिए इस समस्या से बचने के लिए अधिक से अधिक पानी पिए. इसके अलावा नींबू पानी, नारियल पानी, शिकंजी या अन्य तरल पदार्थों को आप रोजाना अपनी डाइट में शामिल करें.

घमौरी- घमौरी होने पर शरीर पर छोटे-छोटे लाल दाने निकल आते हैं. इसमें बहुत ज्यादा खुजली होने लगती है. घमौरी अक्सर उमस और ज्यादा टाइट कपड़ों के पहनने की वजह से होती है. घमौरी से बचने के लिए गर्मियों में ज्यादातर सूती के कपड़े पहनें. ऐसा करने से आपकी त्वचा सांस ले पाती है. नहाने के बाद पहले अपने शरीर को पूरी तरह सुखा लें. उसके बाद कपड़े पहनें.

फूड प्वाइजनिंग- गर्मी के मौसम में हवा में ह्यूमिडिटी होने की वजह से बैक्टीरिया वायरस और फंगस तेजी से बढ़ते हैं जो भोजन को जल्दी दूषित कर देते हैं. ऐसा भोजन करने से व्यक्ति को पूर्ण करने की समस्या हो सकती है. इससे बचने के लिए हमेशा अपने हाथ मुंह धोकर सब्जी हो या फल उन्हें भी धोकर खाए. बांसी, पुराना और बाहर का खाना खाने से बचें.

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments