क्या आप भी उखाड़ते हैं अपने नाक के बाल तो हो जाएं सावधान, यह आदत ले सकती है आपकी जान

कल्याण आयुर्वेद- आपने अक्सर लोगों को देखा होगा, कुछ ही दिनों में नाक के बाल बढ़ जाते हैं इसलिए लोग उन्हें उखाड़ने लगते हैं. परंतु क्या आप जानते हैं कि यह सेहत पर कितना बुरा असर डालता है. आज के इस पोस्ट को इसके बारे में बताएंगे.

क्या आप भी उखाड़ते हैं अपने नाक के बाल तो हो जाएं सावधान, यह आदत ले सकती है आपकी जान

आइए जानते हैं विस्तार से-

हेल्थ के लिए बहुत जरूरी है नाक के बाल. जाहिर तौर पर यह सवाल मन में जरूर आता होगा कि आखिर नाक में बाल होते ही क्यों हैं? जब यह बढ़कर बाहर निकल आते हैं तो यह देखने में और भी खराब लगने लगते हैं.

लेकिन आपको बता दें कि नाक के बाल आपकी सुंदरता बिगाड़ने के लिए नहीं बल्कि आप को सुरक्षित रखने के लिए होते हैं क्योंकि नाक के बाल आपकी रक्षा प्रणाली का हिस्सा है. जब आप सांस लेते हैं तो आपको से ऑक्सीजन ही नहीं मिलता बल्कि इसके साथ ही नाक में कई तरह के बैक्टीरिया, गंदे की धूल आदि चली जाती है जो स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक है.

हमारे नाक के बाल गंदगी को रोकने में मदद करते हैं. इससे हमे सांस से जुड़ी बीमारियां नहीं होती है. स्टडी के अनुसार जिन लोगों की नाक में कम बाल होते हैं उन्हें अस्थमा की बीमारी होने की ज्यादा संभावना रहती है. जिसका सीधा मतलब यह है कि आपके नाक के बाल आपके फेफड़ों के लिए फिल्टर का काम करते हैं.

नाक के बाल नोचने से आपके हेयर फॉलिकल खुल जाते हैं. इस कारण सभी बैक्टीरिया, गंदगी और धूल के कण रोम छिद्रों में जमा होने लगते हैं इससे आपको इंफेक्शन का खतरा बढ़ सकता है. इसके अलावा यह आपकी इम्यून सिस्टम पर भी असर डालता है.

इसके पीछे वजह यह है कि हमारे चेहरे का एक हिस्सा डेंजर ट्रायंगल कहलाता है. यह नाक के ऊपर से लेकर उनके दोनों किनारों का एरिया होता है. इसी जगह हमारी रक्त वाहिकाएं होती है. जिससे हमारे ब्रेन में ब्लड पहुंचता है. ऐसे में जब हम नाक के बाल तोड़ते हैं तो इन ब्लड वेसल्स को नुकसान पहुंचता है.

इस में छेद हो जाने से खून का थक्का भी जम जाता है जिससे इन्फेक्शन हमारे मस्तिष्क तक पहुच सकता है. अगर ऐसा हुआ तो हमारा मस्तिष्क संतुलन बिगड़ सकता है और स्थिति गंभीर होने पर मौत भी हो सकती है.

ऐसे में अगर आपके नाक के बाल बढ़ गए हैं तो उन्हें उखाड़ने मत बल्कि कैंची लेकर सावधानी से उन्हें काटे या फिर इसके लिए ट्रिमर का इस्तेमाल भी कर सकते हैं.

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments