रमजान में डायबिटीज के मरीज रख रहे हैं रोजा, तो जरूर रखें इन बातों का ख्याल

कल्याण आयुर्वेद- रमजान के महीने में सभी मुसलमान रोजे रखते हैं. रोजा रखने का सिलसिला रमजान का चांद देखने से शुरू होता है और महीने भर चलता है. लेकिन डायबिटीज के मरीजों को रोजा खोलते और रखने वक्त अपनी डाइट का खास ख्याल रखना होता है. आज किस पोस्ट में हम आपको डायबिटीज के मरीजों के लिए कुछ चीजों के बारे में बताएंगे जिनका उन्हें हमेशा ख्याल रखना चाहिए.

रमजान में डायबिटीज के मरीज रख रहे हैं रोजा, तो जरूर रखें इन बातों का ख्याल

तो आइए जानते हैं विस्तार से-

शेहरी जरूर खाएं- कई लोग ऐसे होते हैं जो सुबह होते हैं चाहते हैं और शेहरी को मिस कर देते हैं आपको बता दें यदि आप डायबिटीज के मरीज हैं तो आपको भूल कर भी शेहरी नहीं करनी चाहिए. ऐसा करने से शरीर में विभिन्न प्रकार की पोषक तत्वों की कमी हो जाती है.

समय-समय पर चेक करते रहे डायबिटीज- यदि डायबिटीज के मरीज रोजा रख रहे हैं तो उन्हें रोजा रखने के दौरान अपने ब्लड शुगर को समय-समय पर चेक करते रहना चाहिए. क्योंकि रोजा रखने वाले व्यक्ति सूर्योदय के बाद सूर्यास्त तक किसी भी प्रकार का कोई भी खाद्य पदार्थ और पानी तक नहीं पीते हैं इसका असर ब्लड शुगर पर भी पड़ता है.

शेहरी में इन चीजों को ना खाएं- यदि आप डायबिटीज के मरीज हैं तो आपको बता दें कि शेहरी में न्यूट्रीन से भरपूर चीजें खाएं. वही तली हुई चीजें जैसे पराठा, पूरी, समोसा, पकोड़े आदि का सेवन न करें.

हेल्थी डाइट लें- रमजान के समय अपनी डाइट में फल, सब्जियां, डालें, दही आदि चीजों को शामिल करें. मीठी चीजें खाने से बचें. डिहाइड्रेशन को दूर करने के लिए ज्यादा से ज्यादा पानी पिए.

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments