डायबिटीज के मरीजों को भूलकर भी नहीं खाने चाहिए ये 5 फल, बाद में पड़ेगा पछताना

कल्याण आयुर्वेद- सेहत के लिए फल काफी फायदेमंद होते हैं. लेकिन अगर आप डायबिटीज के मरीज हैं तो आपको फलों का सेवन भी बहुत सोच समझ कर करना चाहिए. वरना समस्या बढ़ सकती है. दरअसल डायबिटीज के दौरान व्यक्ति के शरीर में रक्त में शर्करा की मात्रा अधिक हो जाती है. इसलिए व्यक्ति को अपने खान-पान के मामले में बहुत ज्यादा ध्यान देना पड़ता है. आज की पोस्ट में हम आपको पांच ऐसे फलों के बारे में बताएंगे जिनका सेवन डायबिटीज के मरीजों को नहीं करना चाहिए.

डायबिटीज के मरीजों को भूलकर भी नहीं खाने चाहिए ये 5 फल, बाद में पड़ेगा पछताना

तो आइए जानते हैं विस्तार से-

1 .आम- फलों का राजा कहा जाने वाला आम सभी को पसंद होता है लेकिन डायबिटीज के मरीजों को आम नहीं खाना चाहिए. क्योंकि आम में काफी अधिक मात्रा में शुगर पाया जाता है. इसके अलावा कार्बोहाइड्रेट की मात्रा भी अधिक होती है जो ब्लड शुगर लेवल में तेजी से वृद्धि करता है. ऐसे में आम का सेवन डायबिटीज के मरीजों के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है.

2 .केला- केले में विटामिन सी, आयरन, कैल्शियम, फाइबर आदि जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं. इसमें शुगर और कार्बोहाइड्रेट की भी अच्छी खासी मात्रा पाई जाती है जो डायबिटीज के मरीजों के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं है. इसलिए ज्यादा केला खाने से बचें. अगर आपका बहुत मन हो तो आप आधा केला खा सकते हैं.

3 .अंगूर- अंगूर खाने में बहुत ही स्वादिष्ट लगता है. बहुत लोगों का यह फेवरेट है. लेकिन आपको बता दें कि एक कप अंगूर में करीब 23 ग्राम शुगर की मात्रा पाई जाती है. इसके अलावा एक छोटे अंगूर में भी लगभग 1 ग्राम कार्बोहाइड्रेट होता है. इसलिए डायबिटीज के मरीजों को अंगूर का सेवन नहीं करना चाहिए.

4 .अनानास- खाने में खट्टा और मीठा लगने वाला अनानास हर किसी को पसंद होता है. लेकिन आपको बता दें कि इसमें शुगर का लेवल हाई होता है. जिसके कारण डायबिटीज के मरीजों के लिए यह नुकसानदायक है.

5 .लीची- लीची दिखने में जितनी खूबसूरत होती है. खाने में भी उतनी ही स्वादिष्ट होती है. खट्टी मीठी लीची को भी हाई ब्लड शुगर वाले फ्रूट्स में शामिल किया जाता है. इसलिए इसका सेवन भी डायबिटीज के मरीजों को नहीं करना चाहिए.

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. धन्यवाद.


Post a Comment

0 Comments