हाइड्रोसील बढ़ जाए तो क्या करें? जानें घरेलू उपचार

कल्याण आयुर्वेद- हाइड्रोसील ( अंडवृद्धि ) का बढ़ना पुरुषों में होने वाली बीमारी है जो अंडों में किसी पर आघात के पहुंचने के कारण उत्पन्न होते हैं और हाइड्रोसील यानी अंडकोष में सूजन आ जाती है. रस और रक्त आदि की वृद्धि होने से हाइड्रोसील ( अंडकोष ) वृद्धि हो जाती है. इसी को अंडवृद्धि कहते हैं. यह रोग ज्यादा बढ़ने पर परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

हाइड्रोसील बढ़ जाए तो क्या करें? जानें घरेलू उपचार

अंडवृद्धि मुख्य रूप से दो प्रकार के माने जाते हैं.

1 .रक्तज.

2 .मुत्रज.

अंडवृद्धि में परहेज-

इस रोग में अधिक खाना, अधिक परिश्रम, मल मूत्र और शुक्र का रोकना, गरिष्ठ यानी भारी भोजन करना, दही, उड़द, मिठाई, बासी भोजन, मैथुन, साइकिल की सवारी करना हानिकारक होता है.

हाइड्रोसील बढ़ जाने पर वमन, पाचक पदार्थ का सेवन, ज्वार, स्वेद, विरेचन यानी दस्त लाने वाली चीजें, ब्रह्मचर्य पालन, गेहूं, सालीधान में पुराना चावल, ताजा मट्ठा, गाय का दूध और हरे साग सभी फायदेमंद होते हैं.

अंडवृद्धि ( हाइड्रोसील ) का घरेलू उपचार-

1 .ढांक ( पलाश )

हाइड्रोसील बढ़ जाए तो क्या करें? जानें घरेलू उपचार
ढाक के फूलों को पानी के साथ अच्छी तरह से उबालें. उबलने पर उतार कर रखिए. हल्का ठंडा होने पर इसको आराम- आराम से अंडकोष ( हाइड्रोसील ) पर लेप करने से सूजन दूर होकर आराम मिलता है.

2 .तंबाकू-

हाइड्रोसील बढ़ जाए तो क्या करें? जानें घरेलू उपचार
तंबाकू के ताजे पत्तों पर चुपड़कर थोड़ा सा गर्म करें और अंडकोष पर बांधने से सूजन, दर्द सभी दूर हो जाते हैं.

3 .छोटी कटेरी-

हाइड्रोसील बढ़ जाए तो क्या करें? जानें घरेलू उपचार
छोटी कटेरी की जड़ की छाल 10 ग्राम और कालीमिर्च 6 दाने दोनों को पीसकर का 125 ग्राम पानी में मिलाकर रोज सुबह खाली पेट सेवन करें. 1 सप्ताह में ही लाभ होगा.

4 .आम के पत्ते-

हाइड्रोसील बढ़ जाए तो क्या करें? जानें घरेलू उपचार
आम के पत्ते 20 ग्राम, सेंधा नमक 10 ग्राम दोनों को बारीक पीसकर थोड़ा गर्म करके अंडवृद्धि ( हाइड्रोसील ) पर लेप करने से आराम हो जाता है.

Post a Comment

0 Comments