कहीं आप भी तो नहीं पी रहे हैं नकली दूध, इन 5 तरीकों से करें जांच

कल्याण आयुर्वेद- कई बार बर्तन में दूध लेने के बाद हमारे मन में यह विचार आता है कि कहीं दूध मिलावटी तो नहीं है कहीं हम मिलावटी दूध तो नहीं पी रहे हैं. अगर आप इस बारे में नहीं जानते तो सावधान हो जाइए. क्योंकि यह आपके स्वास्थ्य के लिए खतरनाक भी हो सकता है. आपने दूध में केवल पानी की मिलावट के बारे में सुना होगा लेकिन आपको बता दें कि दूध को सफेद और गाढ़ा बनाने के लिए इसमें साबुन डिटर्जेंट और बेहद हानिकारक केमिकल फ्री मिलाया जा रहे हैं, इसलिए आज के इस पोस्ट में हम आपको ऐसे तरीके बताएंगे जिसकी मदद से आप दूध असली है या नकली पहचान सकते हैं?

कहीं आप भी तो नहीं पी रहे हैं नकली दूध, इन 5 तरीकों से करें जांच

तो आइए जानते हैं विस्तार से-

1 .दूध में पानी की जांच-

दूध में पानी की मिलावट है या नहीं इस बात को जानने के लिए किसी लकड़ी या पत्थर पर दूध की एक या दो बूंद गिराएं. अगर दूध वह कर नीचे की तरफ गिरे और सफेद निशान बन जाए तो दूध पूरी तरह से शुद्ध है.

2 .दूध में डिटर्जेंट की जांच-

दूध में डिटर्जेंट की मिलावट को पहचानने के लिए दूध की कुछ मात्रा को एक कांच की शीशी में लेकर जोर से हिलाएं. अगर दूध में से झाग निकलने लगे तो इसमें डिटर्जेंट मिला हुआ है और अगर यह झाग देर तक बना रहे तो दूध पूरी तरह से नकली है.

3 .असली और नकली दूध की पहचान-

स्वाद के मामले में असली दूध हल्का सा मीठा होता है जबकि एक नकली दूध का स्वाद डिटर्जेंट और सोडा मिला होने की वजह से काफी कड़वा हो जाता है. इस तरह से भी आप असली और नकली दूध की पहचान कर सकते हैं.

4 .नकली दूध पहचानने का तरीका-

दूध को देर तक रखने पर असली दूध अपना रंग नहीं बदलता है लेकिन अगर दूध नकली है तो वह कुछ समय बाद पीला पड़ने लगेगा.

5 .असली दूध पहचानने का तरीका-

यदि दूध असली है तो उसे उबालने पर भी उसका रंग बिल्कुल नहीं बदलेगा. लेकिन नकली दूध का रंग बदलने पर पीला हो जाएगा. इसके अलावा दूध को सूंघकर भी आप इसका पता लगा सकते हैं. अगर दूध नकली है तो उसमें साबुन की तरह गंढ रहेगी और दूध असली है तो उसमें इस तरह की कोई गंध नहीं आती.

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. धन्यवाद.


Post a Comment

0 Comments