डैंड्रफ से छुटकारा पाने के लिए इस तरह से करें नीम के तेल का इस्तेमाल, मिलेंगे गजब के फायदे

कल्याण आयुर्वेद- नीम के तेल में एंटीफंगल गुण पाए जाते हैं जो रूसी का इलाज करने में मदद करते हैं. इसमें anti-inflammatory कुंभी होते हैं जो स्कैल्प की सूजन को कम करने में मदद करता है. आपको बता दें यह सोरायसिस, सूजन और जलन के इलाज के लिए भी मददगार है. आज के इस पोस्ट में हम आपको नीम के तेल का इस्तेमाल करने का तरीका बताएंगे.

डैंड्रफ से छुटकारा पाने के लिए इस तरह से करें नीम के तेल का इस्तेमाल, मिलेंगे गजब के फायदे

तो आइए जानते हैं विस्तार से-

नीम का तेल और सेब का सिरका- इसके लिए आप एक चम्मच नीम के तेल में दो चम्मच सेब का सिरका मिला लें. इसे अच्छी तरह से मिक्स करें और अपने स्कैल्प पर लगाकर अच्छे से मसाज करें. फिर एक तौलिए से अपने सिर को लपेट लें और करीब 20 मिनट के लिए ऐसे ही लगा रहने दें. इसके बाद माइल्ड शैंपू से सिर को धो लें. यह स्कैल्प के रूखेपन को दूर करेगा और बैक्टीरिया से छुटकारा दिलाएगा.

नीम का तेल और जैतून का तेल- जैतून का तेल एक प्राकृतिक कंडीशनर के रूप में काम करता है. यह आपके स्कैल्प के रूखे पन को दूर करता है और मोइस्चराइज भी करता है. यह रूसी को दूर करने में मदद करता है. इसमें एंटीफंगल गुण भी मौजूद होते हैं. इसके लिए एक चम्मच जैतून का तेल और एक चम्मच नीम का तेल एक साथ मिलाएं. इसे अपने स्कैल्प पर लगाएं और 10 मिनट के लिए मसाज करें. उसके बाद 20 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें फिर माइल्ड शैंपू से धो लें.

नीम का तेल और दही- दही में लैक्टोबैसिलस नामक बैक्टीरिया पाए जाते हैं जो रूसी का इलाज करने में मदद करता है. दही स्कैल्प वाली खुजली की समस्या को भी दूर करता है. यह आपके बालों को पोषण देता है. इसके लिए आप नीम के तेल की कुछ बूंदों में एक कप दही मिलाएं. इसे अपने स्कैल्प और बालों पर अच्छी तरह से लगाएं और फिर फिर के चारों ओर एक तौलिया लपेटे इसे 30 मिनट के लिए लगा रहने दें. उसके बाद माइल्ड शैंपू से धो लें.

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments