आपके किचन में मौजूद ये 5 मसाले, कम करेंगे कैंसर का खतरा, जरूर जानें इनके फायदे

कल्याण आयुर्वेद - आपका रसोई घर यानी किचन बहुत सारे औषधीय तत्व से भरा है, जिनके बारे में आप जानते भी नहीं है. यह तत्व आपकी कई तरह की पुरानी बीमारियों से लड़ने में आपकी काफी मदद करते हैं. रसोई के मसाले हमारे खाने को स्वादिष्ट तो बनाते ही हैं. साथ ही इनका सीमित सेवन करने से हमारे शरीर को कई फायदे मिलते हैं. कुछ भारतीय मसाले ऐसे हैं, जिनमें कैंसर से बचाने वाले गुण पाए जाते हैं. ऐसे मसालों का रोजाना सेवन करने से आप कैंसर के खतरे को काफी हद तक कम कर सकते हैं. आज के पोस्ट में हम आपको पांच ऐसे मसालों के बारे में बताने जा रहे हैं जो कैंसर से बचाने में मदद करते हैं.

आपके किचन में मौजूद ये 5 मसाले, कम करेंगे कैंसर का खतरा, जरूर जानें इनके फायदे

तो चलिए जानते हैं विस्तार से -

1.हल्दी -

हल्दी एक ऐसा गोल्डन मसाला है, जो कि औषधीय गुणों से भरपूर होता है. एक्सपोर्ट लंबे समय से हल्दी के औषधीय और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुणों को सराहते आए हैं. हल्दी वाला दूध से हेल्थ सेहत के लिए बहुत अच्छा माना जाता है. हल्दी के इन फायदों के पीछे इसमें मौजूद करक्यूमिन है. करक्यूमिन ऐसा योगिक है जो शरीर में एंटीऑक्सीडेंट एक्टिविटी को बढ़ाता है. हल्दी डायबिटीज और कैंसर से लड़ने में बहुत मददगार होता है.

2.लौंग - 

लौंग हमारे सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है. यह भोजन को तो स्वादिष्ट बनाता है. परंतु सेहत से जुड़े कई फायदे देता है. लौंग में पाए जाने वाला टैनिन्स यूजेनॉल नामक यौगिक कैंसर से बचाने में मदद करते हैं. यह कोशिकाओं को ऐसे हानिकारक योगिकों से लड़ने की क्षमता प्राप्त करते हैं.

3.दालचीनी -

दालचीनी में पाए जाने वाले ग्लूकोस, फास्फेट हाइड्रोजीनीज एंजाइम के कारण फ्री रेडिकल से होने वाले ऑक्सीडेटिव डैमेज से बचाते हैं. इसके अलावा एक रिसर्च में यह भी बात सामने आया है, कि हेलीकोबकटेर पाइलोरी नामक बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकती है. यह बेकटेरिया कैंसर को बढ़ाने का काम करता है.

4.जायफल -

जायफल एक मसाला होता है, जो कि आमतौर पर खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. आपको बता दें यह डायबिटीज, मानसिक स्वास्थ्य और ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में भी मदद करता है. आप इसके स्वास्थ्य लाभों का फायदा उठाने के लिए डेली डाइट में इसको सीमित मात्रा में शामिल कर सकते हैं. इससे आप कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से बच सकते हैं.

5.जीरा -

जीरा लगभग हर किचन में मौजूद होता है. यह एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होता है. कई स्टडीज में इस बात का दावा किया गया है, कि जीरा ट्यूमर के विकास को रोकने में मदद करता है. साथ ही यह पेट के एसिड और अन्य पाचन एंजाइमों के उत्पादन का कार्य करता है. इसका सेवन करने से पेट से जुड़ी कई समस्याएं भी दूर हो जाती है.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर करें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments