शीघ्रपतन और कमज़ोर मर्दाना ताकत का शक्तिशाली दुश्मन, गर्म पानी के साथ रोज़ लें 1 गोली, जानें बनाने का तरीका

कल्याण आयुर्वेद - आजकल की बीजी और खराब लाइफस्टाइल में हममें से ज्यादातर लोगों के शरीर में कई सारी दिक्कतें पैदा हो रही हैं. इसके अलावा कई बीमारियां भी आम हो चुकी है. परंतु आपको बता दें कि इस मामले में पुरुष काफी ज्यादा आगे हो चुके हैं. क्योंकि वह दिनभर भाग दौड़ करते रहते हैं और काफी ज्यादा थक जाते हैं. जिसकी वजह से उनके शरीर में शीघ्रपतन और स्वप्नदोष जैसी समस्याएं उत्पन्न होने लगती है. इस समस्या के कारण पुरुषों को पिता बनने में भी परेशानी होती है और वह अपने पार्टनर को भी खुश रखने में असमर्थ हो जाते हैं. आज हम इसी विषय के बारे में जानने की कोशिश करेंगे. साथ ही आज हम आपको एक ऐसी गोली के बारे में बताने जा रहे हैं, जिस गोली का सेवन करने से यह सारी समस्याएं दूर हो जाएंगी.

शीघ्रपतन और कमज़ोर मर्दाना ताकत का शक्तिशाली दुश्मन, गर्म पानी के साथ रोज़ लें 1 गोली, जानें बनाने का तरीका

तो आइए जानते हैं विस्तार से -

सेमल कंद -

आयुर्वेद के अनुसार सेमल कंद सेमल पेड़ की जड़ को कहा जाता है. इसमें फाइबर, जिंक, मैग्निशियम की भरपूर मात्रा पाई जाती है. जिसके कारण यह शीघ्रपतन और इससे जुड़ी कई समस्याओं को दूर करने में रामबाण साबित होता है. आपको बता देंगे कमजोर मर्दाना ताकत और शीघ्रपतन तथा स्वप्नदोष का शक्तिशाली दुश्मन है. इसका सेवन करने से शरीर की स्टैमिना बढ़ती है और प्राइवेट पार्ट में ब्लड का सरकुलेशन तेजी से होने लगता है. जिसकी वजह से यह समस्याएं तुरंत ठीक हो जाती है. साथ ही इसका सेवन करने से यौन संबंधित समस्याएं होने के चांस भी कम हो जाते हैं. इसलिए सभी व्यक्ति को इसका सेवन जरूर करना चाहिए.

गोली तैयार करने का तरीका -

सबसे पहले आपको बता दें, कि यह कोई अंग्रेजी दवा नहीं है, बल्कि आपको इसे अपने घर पर सेमल की जड़ से तैयार करना है. इसके लिए आप सबसे पहले सेमल की जड़ को पंसारी की दुकान से लेकर अपने घर आए और उसे एक दिन रूप में अच्छी तरह से सुखा लें. जब यह पूरी तरह से सूख जाए तो इसे पीसकर इसका पाउडर तैयार करें. अब इस पाउडर में जरूरत के अनुसार शहद मिलाएं और इसे छोटी-छोटी गोलियों के आकार में बना ले. जिन्हें आप आसानी से खा सकें. इन गोलियों को कुछ देर धूप में रख कर सुखा लें. उसके बाद किसी डब्बे में बंद करके रख ले.

सेवन करने का तरीका -

इसके लिए आपको रोजाना इसका सेवन करना है. रोज सुबह-शाम गर्म पानी के साथ एक गोली का सेवन करें. इससे आपको कई फायदे मिलेंगे और आपकी सारी समस्याएं भी दूर हो जाएंगे. आप लगातार इसका सेवन करने पर खुद ही महसूस करने लग जाएंगे, कि आपके शरीर में अब काफी फर्क आया है.

इसके फायदे -

1.यदि आपके शरीर में कमजोरी और ज्यादा थकान रहती है, तो इससे छुटकारा पाने के लिए आप रोजाना एक गोली का सेवन गाय के दूध के साथ करें. इससे आपकी यह समस्या दूर हो जाएगी और आपका शरीर स्वस्थ तथा फिट रहेगा.

2.रोजाना सुबह-शाम गर्म पानी के साथ इस गोली का सेवन करने से आपके शीघ्र पतन और कमजोर मर्दाना ताकत दूर हो जाएगी. इसके साथ-साथ स्वप्नदोष और बांझपन तथा नपुंसकता की समस्याएं भी दूर होंगी.

3.यदि आपको पेट में गैस या कब्ज बनने की समस्या रहती है, तो आपको बता दें कि यह गोली इन समस्याओं को दूर करने में भी फायदेमंद है. यह आपकी पाचन तंत्र के लिए अच्छा साबित होगा. यह आपके शरीर की स्टैमिना में जबरदस्त वृद्धि करता है. इसलिए नियमित रूप से आप इसका सेवन करें.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताएं और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक कथा शेयर जरूर करें. साथ ही इस चैनल को फॉलो जरूर करें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

इसे भी पढ़ें- कंपवात रोग क्या है? जाने कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

वृक्क पथरी क्या है ? जाने कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

प्रतिश्याय ( सर्दी ) क्यों हो जाती है ? जानें कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपाय

चेचक क्या है ? जाने कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपाय

आमाशय व्रण ( पेप्टिक अल्सर ) क्या है ? जाने कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपाय

उन्डूकपुच्छशोथ ( Appendicitis ) क्या है? जानें कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपाय

हैजा रोग क्या है ? जानें कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपाय

सर्दियों में सिंघाड़ा खाने के फायदे

अफारा (Flatulence ) रोग क्या है ? जाने कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

जठर अत्यम्लता ( Hyperacidity ) क्या है ? जाने कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

हिचकी क्या है? जाने कारण, लक्षण एवं घरेलू और आयुर्वेदिक उपाय

विटामिन डी क्या है ? यह हमारे शरीर के लिए क्यों जरूरी है ? जाने प्राप्त करने के बेहतर स्रोत

सेहत के लिए वरदान है नींबू, जाने फायदे

बच्चों को मिर्गी होने के कारण, लक्षण, उपचार एवं बचाव के तरीके

हींग क्या है ? जाने इसके फायदे और इस्तेमाल करने के तरीके

गठिया रोग संधिशोथ क्या है ? जाने कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

पुरुषों को नियमित करना चाहिए इन चीजों का सेवन, कभी नही होगी कमजोरी की समस्या

सोना, चांदी आदि धातु से बने गहने पहनने के क्या स्वास्थ्य लाभ होते हैं? जरुर जानिए

दूध- दही नहीं खाते हैं तो शरीर में कैल्शियम की पूर्ति के लिए करें इन चीजों का सेवन

मर्दाना शक्ति बिल्कुल खत्म हो चुकी है उनके लिए अमृत समान गुणकारी है यह चूर्ण, जानें बनाने और सेवन करने की विधि

स्पर्म काउंट बढ़ाने में इस दाल का पानी है काफी फायदेमंद, जानें अन्य घरेलू उपाय

एक नहीं कई बीमारियों का रामबाण दवा है आंवला, जानें इस्तेमाल करने की विधि

रात को सोने से पहले पी लें खजूर वाला दूध, फायदे जानकर हैरान रह जाएंगे

महिला व पुरुषों में प्रजनन क्षमता बढ़ाने के कारगर घरेलू उपाय

दिल और दिमाग के लिए काफी फायदेमंद है मसूर दाल, मोटापा को भी करता है नियंत्रित

कई जटिल बीमारियों का रामबाण इलाज है फिटकरी, जानें इस्तेमाल करने के तरीके

बरसात के मौसम में होने वाली 8 प्रमुख बीमारियां, जानें लक्षण और बचाव के उपाय

स्पर्म काउंट बढ़ाने के लिए पुरुषों को इन फलों का सेवन करना चाहिए

पुरुषों में शारीरिक कमजोरी मिटाकर नया जोश प्राप्त कराने के आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

श्वेत प्रदर ( ल्यूकोरिया ) होने के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

ये राज पता हो तो हर कोई पा सकता है सुंदर, गोरा और निखरी त्वचा

सिर दर्द होने के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपचार

बच्चों को सुखंडी ( सुखा ) रोग होने के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार

वृक्क ( किडनी ) में पथरी होने के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपचार

राजयक्ष्मा ( टीबी ) होने के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार

आयुर्वेद के अनुसार संभोग करने के नियम, जानें सेक्स से आई कमजोरी दूर करने के उपाय

अशोकारिष्ट बनाने की विधि, उपयोग एवं फायदे

कुमारी आसव बनाने की विधि, उपयोग एवं फायदे

सारस्वतारिष्ट बनाने की विधि, उपयोग एवं फायदे

महासुदर्शन चूर्ण बनाने की विधि, उपयोग एवं फायदे

लवंगादि चूर्ण बनाने की विधि, उपयोग एवं फायदे

त्रिफला चूर्ण बनाने की विधि, उपयोग एवं फायदे

जलोदर होने के कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपचार

अल्जाइमर रोग होने के कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपचार

रक्त कैंसर होने के कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपचार

बवासीर होने के कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपचार

छाती में जलन होने के कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपचार

अग्निमांद्य रोग होने के कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपाय

रैबीज ( जलसंत्रास ) होने के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

खांसी होने के कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपचार

 

 

Post a Comment

0 Comments