सेक्स की इच्छा हो गई है कम, तो तुरंत करें ये 6 काम

कल्याण आयुर्वेद - अपने जीवन मे किसी पॉइंट पर कम कामेच्छा का अनुभव करना बहुत आम है. ये किसी के साथ भी हो सकता है. लेकिन अछि बात यह है कि इसे आप ठीक कर सकते हैं. आपको इसके लिए कुछ बातों का खास ख्याल रखना होगा. जिसके बाद आप कामेच्छा पा सकते हैं. आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स देंगे जिसे अपनाकर आप इस समस्या को दूर कर सकते हैं. 

सेक्स की इच्छा हो गई है कम, तो तुरंत करें ये 6 काम

तो आइए जानते हैं विस्तार से -

1.रोजाना एक्सरसाइज करें -

एक्सरसाइज करना हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है. आपको बता दें कि यदि आप अपने सेक्स ड्राइव में कमी महसूस कर रहे हैं, तो इसकी एक संभावित वजह एक्सरसाइज की कमी भी हो सकती है. एक्सरसाइज आपकी सेहत को बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण है. अगर आपका स्वास्थ्य अच्छा है तो आपकी सेक्स ड्राइव बेहतर होगी. चाहे वह योग हो जोगिंग हो या अपने पसंदीदा खेल का अभ्यास करना हो. व्यायाम एक प्राकृतिक कामेच्छा बनाने वाला है, जो आपको मुफ्त में मिल सकता है. बहुत से डॉक्टर एक्सरसाइज को बेडरूम में अधिकाराम और आत्मविश्वास महसूस करने के तरीके के रूप में समझाते हैं. एक व्यायाम जिसे आप अपनाना चाहेंगे वह है बॉक्सिंग, क्लास बॉक्सिंग सीखना आपके आत्मविश्वास को बढ़ाने में मदद करता है, जो बदले में आपकी कामेच्छा को बढ़ाने में मदद करता है. इसके अलावा कीजल एक्सरसाइज आपके श्रोणि तल में मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद करता है.

2.तनाव को दूर करें -

तनाव को सकारात्मक तरीके से संभालना आपकी सेक्स ड्राइव को बढ़ाने में मदद करता है. तनाव से निपटने के लिए मेडिटेशन एक अच्छा तरीका हो सकता है. बहुत सारे महान संसाधन उपलब्ध है ,जो एक साधारण ध्यान अभ्यास के माध्यम से आपका मार्गदर्शन करने में मदद करते हैं. तनाव कभी-कभी इस बात का संकेत हो सकता है कि स्वास्थ्य जीवन शैली में कुछ बदलाव करने का समय आ गया है. जब आपके आसपास तनाव को मैनेज करने का एक स्वस्थ तरीका होता है, तो यह आपके शरीर को आराम करने में मदद करेगा और आपकी कामेच्छा को बढ़ाने में मदद करेगा.

3.पार्टनर से बात करें -

अपने पार्टनर के साथ खुले और इमानदार तरीके से बात करना, आपके दिमाग से किसी भी चिंता को दूर करने और चल रही किसी भी समस्या का समाधान करने का एक अच्छा तरीका माना जाता है. अपना ध्यान फोन या टीवी की तरफ से हटाए और अपने पार्टनर से बात करने के लिए 20 मिनट का समय जरूर निकालें. कम्युनिकेशन आपके साथी को आपकी दुनिया में और अधिक गहराई से ला सकता है और आप उन्हें बता सकते हैं कि आपके यौन जीवन में कुछ कमी है. हो सकता है कि आप लंबे समय तक फोरप्ले करना चाहते हो या थोड़ी गंदी बात करना चाहते हो, जो कुछ भी आपको परेशान कर रहा है, कम्युनिकेशन उसे दूर करने के लिए एक लंबा रास्ता तय करता है.

4.पूरी नींद लें -

एक व्यस्त जीवनशैली में रात को अच्छी नींद ले पाना बहुत मुश्किल होते जा रहा है. जिससे आप दिन के दौरान थकान और तनाव महसूस करते हैं. आपके शरीर को सामान्य रूप से कार्य करने के लिए नींद बहुत ही महत्वपूर्ण होता है. पर्याप्त नींद न लेने की वजह से इसका असर आपकी सेक्स ड्राइव पर भी पड़ता है और वह धीरे-धीरे कम होने लगती है इसलिए भरपूर नींद लेना बहुत जरूरी है.

5.डॉक्टर से बात करें -

किसी भी प्रकार की उपचार के दौरान या शुरू करने से पहले अब आपका पहला कदम अपने स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता से बात करना हो सकता है. वह यह पता लगाने में आपकी मदद करते हैं कि क्या आप की समीक्षा की समस्या तनाव या किसी अंतर्निहित समस्या के कारण है. आपकी घटी हुई कामेच्छा जैसी समस्याओं या किसी अन्य चिकित्सा या मानसिक स्वास्थ्य स्थिति का परिणाम हो सकती है. जिससे वे आप के इलाज में मदद करते हैं इसलिए डॉक्टर से संपर्क करना आपके लिए फायदेमंद रहेगा.

6.दवा ले -

आपका डॉक्टर आपकी घटी हुई कामेच्छा के इलाज के लिए दवा का सुझाव दे सकता है. कुछ लोगों का मानना है कि हर्बल सप्लीमेंट के जरिए कामेच्छा की कमी को दूर करने में मदद मिलती है. लेकिन इसका समर्थन करने के लिए अभी तक पर्याप्त डाटा उपलब्ध नहीं है. किसी भी दवा यह सप्लीमेंट को लेने से पहले अपने डॉक्टर से बात करना बहुत ही जरूरी है. वरना इससे आपको साइड इफेक्ट भी झेलने पड़ सकते हैं.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर करें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

इसे भी पढ़ें-कंपवात रोग क्या है? जाने कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

वृक्क पथरी क्या है ? जाने कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

प्रतिश्याय ( सर्दी ) क्यों हो जाती है ? जानें कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपाय

चेचक क्या है ? जाने कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपाय

आमाशय व्रण ( पेप्टिक अल्सर ) क्या है ? जाने कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपाय

उन्डूकपुच्छशोथ ( Appendicitis ) क्या है? जानें कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपाय

हैजा रोग क्या है ? जानें कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपाय

सर्दियों में सिंघाड़ा खाने के फायदे

अफारा (Flatulence ) रोग क्या है ? जाने कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

जठर अत्यम्लता ( Hyperacidity ) क्या है ? जाने कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

हिचकी क्या है? जाने कारण, लक्षण एवं घरेलू और आयुर्वेदिक उपाय

विटामिन डी क्या है ? यह हमारे शरीर के लिए क्यों जरूरी है ? जाने प्राप्त करने के बेहतर स्रोत

सेहत के लिए वरदान है नींबू, जाने फायदे

बच्चों को मिर्गी होने के कारण, लक्षण, उपचार एवं बचाव के तरीके

हींग क्या है ? जाने इसके फायदे और इस्तेमाल करने के तरीके

गठिया रोग संधिशोथ क्या है ? जाने कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

पुरुषों को नियमित करना चाहिए इन चीजों का सेवन, कभी नही होगी कमजोरी की समस्या

सोना, चांदी आदि धातु से बने गहने पहनने के क्या स्वास्थ्य लाभ होते हैं? जरुर जानिए

दूध- दही नहीं खाते हैं तो शरीर में कैल्शियम की पूर्ति के लिए करें इन चीजों का सेवन

मर्दाना शक्ति बिल्कुल खत्म हो चुकी है उनके लिए अमृत समान गुणकारी है यह चूर्ण, जानें बनाने और सेवन करने की विधि

स्पर्म काउंट बढ़ाने में इस दाल का पानी है काफी फायदेमंद, जानें अन्य घरेलू उपाय

एक नहीं कई बीमारियों का रामबाण दवा है आंवला, जानें इस्तेमाल करने की विधि

रात को सोने से पहले पी लें खजूर वाला दूध, फायदे जानकर हैरान रह जाएंगे

महिला व पुरुषों में प्रजनन क्षमता बढ़ाने के कारगर घरेलू उपाय

दिल और दिमाग के लिए काफी फायदेमंद है मसूर दाल, मोटापा को भी करता है नियंत्रित

कई जटिल बीमारियों का रामबाण इलाज है फिटकरी, जानें इस्तेमाल करने के तरीके

बरसात के मौसम में होने वाली 8 प्रमुख बीमारियां, जानें लक्षण और बचाव के उपाय

स्पर्म काउंट बढ़ाने के लिए पुरुषों को इन फलों का सेवन करना चाहिए

पुरुषों में शारीरिक कमजोरी मिटाकर नया जोश प्राप्त कराने के आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

श्वेत प्रदर ( ल्यूकोरिया ) होने के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

ये राज पता हो तो हर कोई पा सकता है सुंदर, गोरा और निखरी त्वचा

सिर दर्द होने के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपचार

बच्चों को सुखंडी ( सुखा ) रोग होने के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार

वृक्क ( किडनी ) में पथरी होने के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपचार

राजयक्ष्मा ( टीबी ) होने के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार

आयुर्वेद के अनुसार संभोग करने के नियम, जानें सेक्स से आई कमजोरी दूर करने के उपाय

अशोकारिष्ट बनाने की विधि, उपयोग एवं फायदे

कुमारी आसव बनाने की विधि, उपयोग एवं फायदे

सारस्वतारिष्ट बनाने की विधि, उपयोग एवं फायदे

महासुदर्शन चूर्ण बनाने की विधि, उपयोग एवं फायदे

लवंगादि चूर्ण बनाने की विधि, उपयोग एवं फायदे

त्रिफला चूर्ण बनाने की विधि, उपयोग एवं फायदे

जलोदर होने के कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपचार

अल्जाइमर रोग होने के कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपचार

रक्त कैंसर होने के कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपचार

बवासीर होने के कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपचार

छाती में जलन होने के कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपचार

अग्निमांद्य रोग होने के कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपाय

रैबीज ( जलसंत्रास ) होने के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक एवं घरेलू उपाय

खांसी होने के कारण, लक्षण और घरेलू एवं आयुर्वेदिक उपचार

 

 

Post a Comment

0 Comments