फेंकने की गलती ना करें सेब के छिलके, इस तरह करें इस्तेमाल, जानें शानदार फायदे

कल्याण आयुर्वेद - बचपन से हम सभी सुनते आ रहे हैं, कि रोजाना एक सेब खाने से बीमारियां दूर रहती है. क्योंकि इसमें स्वास्थ्य का खजाना छिपा होता है. लेकिन सिर्फ सेब ही नहीं सेब के छिलके भी बहुत ही काम आते हैं. सेब के छिलके के इन फायदों के बारे में शायद ही आप जानते होंगे और इसलिए बिना जाने इसे फेंक देते हैं. लेकिन सेब के छिलके के फायदे जाने के बाद यकीनन आप इन्हें फेंकने की गलती नहीं करेंगे.

फेंकने की गलती ना करें सेब के छिलके, इस तरह करें इस्तेमाल, जानें शानदार फायदे

सेब के छिलकों में पाए जाने वाले पोषक तत्व -

आपको बता दें सेब के छिलकों में विटामिन ए, विटामिन सी, पोटेशियम, कैल्शियम, फोलेट, आयरन जैसे ढेरों पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए बहुत ही जरूरी और फायदेमंद भी साबित होते हैं, तो चलिए जानते हैं सेब के छिलके के फायदे.

1.अगर आप रोजाना सेब के छिलके खाते हैं, तो यह आपके वजन को कम करने में मदद मिलती है. इतना ही नहीं यह आपके पाचन को भी सुधारने में मदद करता है. क्योंकि इसमें फाइबर भरपूर पाया जाता है, जो आपकी पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद साबित होता है.

2.सेब के छिलके में मौजूद quercetin नामक कंपाउंड ब्रेन सेल्स को डैमेज होने से बचाता है, जो आपकी मस्तिष्क की सेहत के लिए फायदेमंद है.

3.सेब के छिलके खाने पर ग्लूकोमा का खतरा कम होता है.

4.सेब के छिलके में पाया जाने वाला quercetin पदार्थ एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करता है, जो नसों में खून के थक्के नहीं जमने देता है और दिल की बीमारियों से बचाने में मदद करता है.

5.डायबिटीज के मरीजों के लिए भी यह फायदेमन्द होती है. यदि आप डायबिटीज के मरीज हैं तो छिलके समेत सेब खाएं. क्योंकि यह शरीर में ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में मददगार साबित होता है.

सेब के छिलके के अन्य फायदे -

आप सेब के छिलकों से जेल भी बना कर खा सकते हैं. जिसके लिए एक पैन के अंदर पानी डालकर, उसमें सेब के छिलके उबाल लें. जब छिलके नरम हो जाए, तो उसमें स्वाद अनुसार चीनी डालकर उबलने दें. अब इसमें आधा नींबू का रस मिलाएं और ठंडा करके एक डिब्बे में रख दें. नाश्ते में ब्रेड के साथ ही यह जेल खाएं.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरुर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरुर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरुर कर लें. इस पोस्ट को पढने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments