क्या भोजन करने के बाद बढ़ जाती है दिल की धड़कन ? तो इस गंभीर बीमारी का है खतरा

कल्याण आयुर्वेद - बदलती लाइफस्टाइल और खान-पान के चलते ज्यादातर लोगों को कई बीमारियां घेर लेती है. इसमें डायबिटीज से लेकर हार्ट संबंधी बीमारियां भी शामिल है. कई लोग मानते हैं कि खाना खाने के बाद अगर आपकी दिल की धड़कन तेज हो जाती है, तो यह गंभीर चिंता का विषय हो सकती है. अगर आपके साथ भी यह समस्या होती है, तो आपको इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़ना चाहिए.

क्या भोजन करने के बाद बढ़ जाती है दिल की धड़कन ? तो इस गंभीर बीमारी का है खतरा

धड़कन तेज होने पर तेजी से काम करता है हृदय -

धड़कन का तेज गति से चलना आपको महसूस कराता है, कि आपका हृदय बहुत तेजी गति से काम कर रहा है. इस दौरान आपके सीने, गले और गर्दन में हो रहे बदलाव पर भी महसूस किया जा सकता है. यानी अगर खाना खाने के बाद आपकी भी धड़कन तेज हो जाती है, तो आपको थोड़ा अलर्ट हो जाना चाहिए.

इन कारणों से होती है दिल की धड़कन तेज -

कई बार जब आप अपने खाने में बहुत ज्यादा तीखा और मसालेदार खाना खाते हैं, तो आपकी दिल की धड़कन तेज हो जाती है. इसके अलावा आपको हृदय संबंधी कोई समस्या पहले से हो या फिर आप बहुत अधिक कैफिन, निकोटिन या अल्कोहल का सेवन कर रहे हैं, तो इस कारण भी खाना खाने के बाद आपके हृदय की धड़कन तेज हो सकती है.

धड़कन तेज होने पर महसूस होते हैं यह बदलाव -

इस दौरान आपको सांस लेने में समस्या, चक्कर आना, छाती में दर्द और बेहोशी जैसे दिक्कतें आ सकती है. इसके लिए आपको बिना समय गवाएं अपने डॉक्टर से सलाह दनी चाहिए और जरूरी जांच करवानी चाहिए. जिससे की समस्या बढ़ने से पहले ही इसे रोका जा सके.

दिल की धड़कन तेज होने पर हो सकती है यह दिक्कत -

दिल की धड़कन तेज होने पर आपको दिल का दौरा पड़ने के साथ साथ कई दिक्कत भी हो सकती है. इसमें दिल की धमनियों से संबंधित रोग, दिल की धड़कन रुकना, हार्ट वाल्व की समस्या और हृदय मांसपेशियों की समस्या शामिल है.

इन तरीकों से करें उपाय -

1.अगर खाना खाने के बाद आपके हृदय की धड़कन तेज हो जाती है, तो आपको अपना खानपान बदलना चाहिए. आपको अपने खाने में अधिक मात्रा में साबुत अनाज, हरी पत्तियां और फलों को शामिल करना चाहिए.

 2.इसके अलावा खाने में तेल की मात्रा को कम कर देना चाहिए और हो सके, तो रोज देंगे या दो से 4 दिन में अलग-अलग तेल का इस्तेमाल करें.

3.खाने में नमक, मीठा और फैट की मात्रा का सेवन करना बिल्कुल कम कर देना चाहिए. यह हृदय की सेहत के लिए सही रहेगा. अगर आप इनका सेवन ज्यादा मात्रा में करेंगे, तो यह आपके हृदय को और भी नुकसान पहुंचाएगा.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments