हार्ट अटैक आने से पहले शरीर में आते हैं ऐसे बदलाव, कभी ना करें नजरअंदाज

कल्याण आयुर्वेद - आमतौर पर हार्ट अटैक की दिक्कत बदलती लाइफस्टाइल की वजह से ही होती है. यही वजह है कि देश में चार में से तीन लोगों को हार्टअटैक की समस्या होती है. ध्यान देने वाली बात यह है कि ज्यादातर लोगों को साइलेंट अटैक भी कई बार आ जाते हैं. लेकिन उन्हें पता नहीं चलता है. सही वक्त पर हृदय काम न करे तो बड़ी दिक्कत हो सकती है. चलिए जानते हैं कि हार्ट अटैक आने से पहले हमारा शरीर किस प्रकार के संकेत देता है. जिन्हें कभी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए.

हार्ट अटैक आने से पहले शरीर में आते हैं ऐसे बदलाव, कभी ना करें नजरअंदाज

हार्ट अटैक के शुरुआती लक्षण -

अगर हार्ट अटैक के शुरुआती लक्षणों के बारे में पता चल जाए, तो कई लोगों की जान बचाई जा सकती है. शुरुआती लक्षणों में बेचैनी, सीने में बेचैनी, सीने में भारीपन, छाती में दर्द, पसीना आना, सांस फूलना आदि शामिल है. इसके अलावा कई लोगों को एसिडिटी और डकार आती है. जिसे कुछ लोग गैस की समस्या समझ कर इग्नोर करते हैं. आपको बता दें कि यह भी हार्ट अटैक आने से पहले का लक्षण है. उसे साइलेंट हार्ट अटैक के नाम से जाना जाता है.

इन लक्षणों को भी ना लें हल्के में -

हार्ट अटैक आने से पहले कमजोरी, हल्का सिर दर्द, गर्दन, जबड़े और पीठ में बेचैनी या दर्द महसूस होना आदि शामिल है. यही नहीं अगर आपको इस प्रकार के लक्षण दिख रहे हैं, तो इसे हल्के में ना लें. तुरंत डॉक्टर से सलाह ले.

इन फूड्स का करें सेवन -

1.फल -

डाइट एक्सपर्ट के अनुसार अगर बात दिल की स्वास्थ्य की करें, तो आपको फलों का सेवन जरूर करना चाहिए. फलों में आप अनार केला, सेब, बेरी जैसे साइट्रस फलों के सेवन कर सकते हैं. यह सबसे बढ़िया माने जाते हैं. इनमें एंटी ऑक्सीडेंट, फ्लेवोनॉयड और विटामिंस पाए जाते हैं. इसके साथ ही ढेरों पोषक तत्व होते हैं, जो आपकी हृदय की सेहत के लिए अच्छे होते हैं.

2.सब्जियों का सेवन करें -

बींस, भिंडी और बैंगन जैसी सब्जियां भले ही आपको पसंद ना आती हो, लेकिन आपको बता दें यह सब्जियां फाइबर युक्त होती हैं, जो शरीर से कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करती हैं. इसलिए आपको इनका सेवन जरूर करना चाहिए. अगर आप इसका सेवन रोजाना नहीं कर सकते तो हफ्ते में दो बार इनका सेवन जरूर करें. यह आपकी हृदय को स्वस्थ रखने का काम करते हैं.

3.होल ग्रेन -

अनाज से बने उत्पाद दो तरह के होते हैं. होल ग्रेन और रिफाइंड होल ग्रेन में पूरा अनाज होता है. चोकर बीज और एंड स्पर्म सब मौजूद रहते हैं. जैसे होल व्हीट आटा, ओटमील, होल कॉर्नमील. रिफाइंड ग्रीन प्रोसेस होता है जिसमें जोकर और बीज निकाल दिए जाते हैं, इस प्रक्रिया में अनार में पाए जाने वाले विटामिन, आयरन और डाइटरी फाइबर का अधिकतर हिस्सा खत्म हो जाता है. इसलिए स्वस्थ दिल के लिए जरूरी है कि आप होल ग्रेन से तैयार आटा ब्रेड आदि को अपनी डाइट में शामिल करें.

4.मछली -

यदि आप नॉनवेज खाते हैं तो आपको अपनी डाइट में मछली जरूर शामिल करनी चाहिए. मछली सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद होती है. स्वस्थ दिल के लिए हफ्ते में कम से कम 2 बार मछली जरूर खाना चाहिए. आप सार्डिन, सैमन, मैकरल, मछलियों का सेवन कर सकते हैं. इनमें ओमेगा 3 फैटी एसिड पाए जाते हैं, जो दिल को महफूज रखते हैं.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments