साधारण मसाला नहीं है तेजपत्ता, फायदे जानकर उड़ जाएंगे होश

कल्याण आयुर्वेद - बहुत कम लोगों को पता होगा कि तेजपत्ता केवल एक मसाला या खुशबू बढ़ाने वाला पत्ता नहीं है बल्कि यह औषधीय गुणों का भंडार है. इस पत्ते में भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं. यही वजह है कि इसका तेल कई सौंदर्य उत्पादों में भी इस्तेमाल किया जाता है. आपके किचन के मसाले में तेजपत्ता तो जरूर होगा. तेजपत्ता ज्यादातर और सब्जी में डाली जाती है और कई ऐसे डिशेज है, जिन्हें बनाने में उसका स्वाद बढ़ाने में मदद करता है. आज हम आपको इसके कुछ औषधीय फायदे बताने जा रहे हैं.

साधारण मसाला नहीं है तेजपत्ता, फायदे जानकर उड़ जाएंगे होश

तेज पत्ते के कुछ अनमोल फायदे -

1.मुंह की बदबू को दूर करता है -

तेज पत्ता मुंह के बैक्टीरिया को खत्म करने में मदद करता है. जिससे सांस में बदबू की समस्या नहीं होती है. यह एक ऐसी समस्या है जो बहुत ही शर्मसार होती है और यह हमें कहीं भी किसी के सामने शर्मिंदा महसूस करवा सकता है. जिसकी वजह से आप किसी से बात करने में भी हिचकीचाने लगते हैं. इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए रोज सुबह इस पत्ते को पानी में उबालकर पीने से ऐसी समस्याएं दूर हो जाएंगी. तेज पत्ते में मौजूद मिलकर मसूड़ों को मजबूत बनाएंगे. यह दातों के लिए भी फायदेमंद होते हैं.

2.फंगल इंफेक्शन से बचाता है -

तेजपत्ता एंटीफंगल गुणों से समृद्ध होता है. यह विशेष रूप से यह संक्रमण को कम करने में मदद करता है. इसलिए त्वचा से संबंधित फंगल संक्रमण के लिए तेज पत्ते से बना एसेंशियल ऑयल इस्तेमाल किया जाता है. यह आपकी सेहत के साथ-साथ त्वचा की खूबसूरती के लिए भी फायदेमंद होता है.

3.वजन कम करने में मददगार -

आजकल ज्यादातर लोग वजन बढ़ने की समस्या से परेशान है. अगर आप भी इस समस्या से जूझ रहे हैं, तो वजन कम करने के लिए आप तेजपत्ता इस्तेमाल कर सकते हैं .तेज पता उस जड़ी बूटियों में से एक है, जो भूख को नियंत्रित करते हैं और इसका सेवन करने से पाचन तंत्र भी दुरुस्त रहता .है इसका सेवन करने से आपका कैलोरी काउंट कम हो जाता है. जिससे आप जल्दी वजन घटा पाते हैं.

4.किडनी की समस्या होती है दूर -

पेशाब की नली और किडनी में मौजूद पथरी के इलाज में तेज पत्ते के अर्क का इस्तेमाल किया जाता है. तेज पत्ते को कुछ देर के लिए पानी में उबाल लें और फिर इसे ठंडा करके इसका सेवन करें. रोजाना सुबह इस उपाय को खाली पेट करने से किडनी सुचारू रूप से काम करती है.

5.पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद -

आजकल गलत खानपान की वजह से पेट से जुड़ी समस्याएं हो जाती हैं. आपको बता दें तेजपत्ता गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याएं जैसे बिगड़ा पाचन, पेट फूलना, पेट की सूजन आदि के लिए उपयोग किया जाता है और मूत्र वर्धक के रूप में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है.

6.दर्द से छुटकारा दिलाता है -

तेज पत्तियों का उपयोग गठिया और तंत्रिका तंत्र के उपचार के लिए भी किया जाता है. यह जोड़ों के दर्द से छुटकारा दिलाने के साथ-साथ सिर दर्द का इलाज करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है. इस दर्द से राहत पाने के लिए इसकी पत्तियों को नथुने में या सीर के नीचे लगाया जाता है.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक + शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर करें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments