तांबे के बर्तन का करते हैं इस्तेमाल ? तो इन 5 बातों का रखें खास ख्याल

कल्याण आयुर्वेद - तांबे के बर्तन में कम से कम 8 घंटे रखा हुआ पानी पीने से सेहत को एक नहीं बल्कि कई तरह के फायदे मिलते हैं. इस बारे में ज्यादातर लोग जानते हैं और तांबे के लोटे और गिलास का पानी रखने के लिए इस्तेमाल करते हैं, तो वहीं कुछ लोग तांबे के बर्तन में खाना खाना भी पसंद करते हैं. दरअसल तांबे के बर्तन में खाना खाने से भी ढेरों फायदे मिलते हैं. परंतु क्या आप जानते हैं तांबे के बर्तन में कुछ चीज़ों को खाना सेहत के लिए नुकसानदायक भी होता है. आज के इस पोस्ट में हम आपको पांच ऐसी चीजों के बारे में बताएंगे, जो तांबे के बर्तन में खाने से बचना चाहिए.

तांबे के बर्तन का करते हैं इस्तेमाल ? तो इन 5 बातों का रखें खास ख्याल

1.नींबू -

तांबे के बर्तन में नींबू या नींबू से बनी किसी भी चीज का सेवन करना आपके लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है. क्योंकि नींबू में एसिड मौजूद होता है, जो तांबे के साथ मिलकर जहर के समान हो जाता है. इसका सेवन करने से आपको सेहत से जुड़े कई नुकसान हो सकते हैं और यह गंभीर भी बन सकता है.

2.दही -

दही या दही से तैयार की गई किसी भी चीज का सेवन करना तांबे के बर्तन में नहीं करना चाहिए. इससे आपको फ़ूड पोइज़निंग, जी मिचलाना और घबराहट होने जैसी समस्याएं हो सकती हैं. इसलिए इस तरह दही का सेवन करने से बचें.

3.सिरका - 

सिरके का सेवन में तांबे के बर्तन में नहीं करना चाहिए. ऐसा इसलिए क्योंकि सिरका एक तरह अमलीय पदार्थ होता है, जिसको तांबे के बर्तन में रखकर खाने से यह सेहत को काफी नुकसान पहुंचा सकता है.

4.आचार - 

आप किसी भी तरह के अचार को तांबे के बर्तन में रखने या फिर इसमें रखकर खाने की गलती कभी भी नहीं करनी चाहिए. क्योंकि ऐसा करने से अचार में मौजूद खटास और सिरका तांबे में रखने से विषाक्त पदार्थ का रूप ले सकता है.

5.छाछ -

बहुत से लोग तांबे के गिलास या कटोरी में छाछ पीने की गलती करते हैं. लेकिन ऐसा करना सेहत के लिहाज से नुकसान दायक माना जाता है. इसलिए इस गलती को करने से हमेशा बचना चाहिए. इससे आपको सेहत से जुड़े नुकसान हो सकते हैं.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताएं और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पेस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments