बासी मुंह चबाएं ये 5 तरह के पत्ते, गैस के साथ-साथ इन समस्याओं से मिलेगा छुटकारा

कल्याण आयुर्वेद - क्या गर्मियों में आपका कम खाने पीने का मन करता है. क्या आपका इन दिनों आपका पेट हमेशा भरा भरा और फुला हुआ महसूस होता है. क्या आपको थोड़ा सा खाते ही गैस की समस्या होने लगती है. अगर हां तो पेट से जुड़ी इन समस्याओं को दूर करने के लिए आपको दवाएं देने की जरूरत नहीं है. इन समस्याओं के इलाज के लिए आप अपने आसपास मिलने वाले पुदीने की तरह है कुछ औषधीय पत्ते चबा सकते हैं.

बासी मुंह चबाएं ये 5 तरह के पत्ते, गैस के साथ-साथ इन समस्याओं से मिलेगा छुटकारा

पेट फूलने की समस्या को मेडिकल भाषा में ब्लोटिंग कहा जाता है. इसकी वजह से आपको पेट में गैस महसूस होती है और उसके साथ ही पेट में ऐठन, दर्द और सूजन भी महसूस होती है. दरअसल इस स्थिति में पेट में हवा भर जाती है. जिससे पेट हमेशा भरा भरा महसूस होता है. इसकी वजह से आपको कम भूख लगती है. या थोड़ा सा खा लेते ही पेट भर जाता है.

देर तक बैठे रहना, पुराना कब्ज, कार्बोनेटेड ड्रिंक पीना, एक साथ बहुत ज्यादा भोजन करना आदि. इसके कुछ कारण हो सकते हैं. बेशक यह समस्या इतनी गंभीर नहीं है. लेकिन अगर इसका समय से इलाज न किया जाए तो आपको कई घातक समस्याएं हो सकती है. ब्लोटिंग और गैस के लिए वैसे तो कई दवाएं उपलब्ध है. लेकिन कुछ आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों के पत्ते चबाने से आपको तुरंत राहत मिल सकती है.

1.सौंफ के पत्ते -

सबसे पहले हम जिस उपाय के बारे में बात कर रहे हैं वह हैं सौंफ के पत्ते. सौंफ का उपयोग पारंपरिक रूप से पेट दर्द, सूजन, गैस और कब्ज सहित कई पाचन समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है. इसमें ढेरों औषधीय गुण पाए जाते हैं. आपको बता दें यह भोजन को स्वादिष्ट तो बनाता ही है, सेहत के लिहाज से भी यह फायदेमंद होता है. सौंफ के पत्ते चबाने से अलसर को रोकने में मदद मिलती है और पेट फूलने की समस्या भी कम होती है. इन हरे पत्तों में सूजन और कब्ज के लक्षणों को कम करने की छमता पाई जाती है.

2.अजवाइन के पत्ते -

जो लोग खाने के बाद लगातार सूजन या भारीपन का अनुभव करते हैं. उनके लिए अजवाइन की प्रतियां बहुत उपयोगी मानी जाती है. अजवाइन के पत्ते पाचन में सुधार लाता है, पाचन को बढ़ावा देने, अम्लीयता को दूर करने और गैस की समस्या को दूर करने में मदद करते हैं. इसके लिए आपको अजवाइन के पत्ते का सेवन करना चाहिए. जब भी आपको ऐसी समस्या हो तो आप अजवाइन की कुछ पत्तियों को चबाने आपकी यह समस्या जल्द दूर हो जाएगी.

3.करी पत्ते -

करी पत्ते का सेवन करना विशेष रूप से पाचन तंत्र को बेहतर बनाने में मदद करता है. जब खाली पेट आप इसका सेवन करते हैं, तो करी पत्ता पाचन एंजाइमों को उत्तेजित करता है और मल त्याग का समर्थन करता है. यह आपको कब्ज से छुटकारा दिलाने में भी मदद करता है. आपको बता दें करी पत्ते को मीठा नीम भी कहा जाता है. यह आपको आसानी से मिल जाएगा. जब भी आपको पेट से जुड़ी समस्या हो तो करी पत्ते का सेवन कर सकते हैं. आप चाहें तो इसे अपने भोजन में डालकर इसका सेवन कर सकते हैं. इससे भोजन और भी स्वादिष्ट बनेगा.

4.पुदीने के पत्ते -

पुदीने की हरी पत्तियों के ठंडे और ताजगी देने वाले गुण सूजन को ठीक करने का सबसे अच्छा उपाय माने जाते हैं. पुदीना पेट से जुड़ी समस्याओं के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है. साथ ही यह और भी कई समस्याओं को दूर करता है. पुदीना सूजन और पाचन से संबंधित दिक्कतों को जल्द से जल्द दूर करता है. इसमें पेट की ऐंठन को कम करने की क्षमता होती है. अगर आपको हमेशा पेट में गैस या पेट फूलने की समस्या रहती है, तो आपको रोजाना सुबह कुछ पत्ते चबाने चाहिए या फिर पूदिने की चाय पीनी चाहिए.

5.जामुन के पत्ते -

इस लिस्ट में जामुन के पत्ते भी शामिल है. जामुन के पत्तों में पाचन वाले गुण पाए जाते हैं और यह सभी पाचन समस्याओं के लिए बेहतर औषधि है. इसके एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण कैनाल में गैस को कम करने में मदद करता है. जिससे पेट में कब्ज, सूजन, पेट फूलना जैसी समस्याओं को कम करने में मदद मिलती है. इसमें एंटासिड गुण पाए जाते हैं जो पेट में अत्यधिक एसिड के निर्माण को रोकता है और इस तरह यह अल्सर और गैस्ट्राइटिस का इलाज करते हैं.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments