उल्टी और जी मिचलाने से हैं परेशान ? तो डाइट में इन चीजों को करें शामिल और करें इन चीजों से परहेज

कल्याण आयुर्वेद - कई बार अंदर से जी निकलाने और उल्टी जैसा महसूस होने लगता है. ऐसा होने पर कुछ भी खाने पीने की इच्छा नहीं होती है. ऐसा लगता है जो भी खाएंगे वह बाहर आ जाएगा. उल्टि या मतली मुंह का स्वाद भी खराब कर देती है. जी मिचलाना उल्टी आने की कई कारण हो सकते हैं. जैसे एलर्जी, कोई सर्जरी, प्रेगनेंसी, कुछ दवाओं का सेवन, हार्मोनल डिसऑर्डर, पेट से संबंधित समस्याएं, पेट में कीड़े होना, फूड इनटोलरेंस, कैंसर का इलाज आदि. कई बार अधिक गर्मी के कारण भी उल्टी, मतली की समस्या हो सकती है. जब उल्टी महसूस हो या उल्टी हो जाए, तो शरीर इलेक्ट्रोलाइट बैलेंस और हाइड्रेटेड खाना पीना जरूरी हो जाता है. कुछ उल्टी की समस्या को कम किया जा सकता है.

उल्टी और जी मिचलाने से हैं परेशान ? तो डाइट में इन चीजों को करें शामिल और करें इन चीजों से परहेज

जी मिचलाने में क्या खाना चाहिए -

1.स्टाइलक्रेज़ में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक, यदि आपको उलटी या मतली जैसा महसूस हो रहा हो, तो आपको सेब का सेवन करना चाहिए. इस फल में फाइबर और आयरन जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं. यह शरीर से टॉक्सिन को बाहर निकालने में मदद करता है. यह पाचन को भी बढ़ाता है. जिससे आंतों में होने वाली समस्या दूर हो जाती है. मतली से छुटकारा मिलता है. इसे आप काटकर खा सकते हैं. आप चाहें तो इसका जूस भी पी सकते हैं.

2.उल्टी मतली जैसी समस्याओं में अदरक का एक टुकड़ा मुंह में रखकर चबाना चाहिए. अदरक में मौजूद जिंजरोल जी मिचलाने की समस्या से छुटकारा दिलाता है. जिन लोगों का कैंसर के इलाज में कीमोथेरेपी चल रहा है उन्हें अदरक जरूर खाना चाहिए. मॉर्निंग सिकनेस होने पर इसे खाना फायदेमंद होता है. इसे पानी में उबालकर पी सकते हैं या फिर कच्चा चबाकर खाएं.

3.नारियल पानी पीने से भी उल्टी की समस्या को दूर किया जा सकता है. साथ ही गर्भावस्था में मॉर्निंग सिकनेस मतली या उल्टी के कारण हुई डिहाइड्रेशन को दूर करने के लिए नारियल पानी पीना बेस्ट होता है. आप एक गिलास नारियल पानी में नींबू का रस मिलाकर पी सकते हैं. इससे उल्टी और मतली की समस्या से राहत मिलता है.

4.जब भी आपको उल्टी आए या मतली जैसा महसूस हो तो एक केला खा ले. पेट के अंदर होने वाले गैस्ट्रिक से संबंधित समस्याएं मतली, उल्टी को दूर करने के लिए केला बेस्ट फल है. यह पेट की लाइनिंग में म्यूकस के निर्माण को बढ़ाता है. जिससे जी मिचलाना ठीक हो जाता है.

जी मिचलाए तो क्या नहीं खाना चाहिए -

जी मिचलाना, उल्टी होने पर अधिक तेल मसालेदार फूड, जंक फूड, पैक्ड फूड, बाहर का खाना खाने से बचना चाहिए. इसके अलावा दूध और दही और दूध से बने खाद्य पदार्थ रिफाइंड शुगर, सोडा, अल्कोहल आदि का सेवन करने से बचें. क्योंकि यह सभी चीजें मतली और उल्टी की समस्या को बढ़ाने का काम करते हैं. सोडा हार्टबर्न का कारण बनता है. साथ ही पेट को नुकसान भी पहुंचाता है.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments