स्वाद में कड़वा लेकिन सेहत के लिए है वरदान, आइए जानें करेले के जबरदस्त फायदे

कल्याण आयुर्वेद - हरी सब्जियों के बीच आकर्षित करने वाला करेला स्वाद में भले ही कड़वा लगता हो. लेकिन इससे होने वाले फायदे जरूर मीठे होते हैं. करेला एक ऐसी सब्जी है, जिसके जितने नापसंद करने वाले हैं उतने ही चाहने वाले भी हैं. वैसे इसके नापसंद करने वाले लोगों को यह बात जरूर ध्यान में रखना चाहिए, कि यह पेट से लेकर दिमाग और शरीर के अंदर पनप रही सारी बीमारियों को दूर करने के लिए रामबाण इलाज की तरह काम करता है. मधुमेह से ग्रसित व्यक्तियों के लिए भी करेला बहुत फायदेमंद होता है. यह एंटीबायोटिक और एंटीवायरल गुणों से भरपूर होने के साथ-साथ विटामिन ए और सी का भी अच्छा स्रोत होता है. यह हमारे शरीर के रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है.

स्वाद में कड़वा लेकिन सेहत के लिए है वरदान, आइए जानें करेले के जबरदस्त फायदे

आइए जानते हैं इसके कुछ अनमोल फायदों के बारे में -

1.पाचन संबंधी समस्याओं को करता है दूर -

गलत खानपान की वजह से पाचन से जुड़ी समस्याएं आजकल आम हो चुकी है. ऐसे में आप इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए करेले का सेवन कर सकते हैं. करेले में फास्फोरस पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है, जो कब्ज, गैस, खट्टी डकार, बदहजमी जैसी पाचन संबंधी समस्याओं को दूर करने में सहायक होता है. इसके लिए आप करेले को अपनी डाइट में शामिल करें.

2.दमा रोगियों के लिए फायदेमंद -

अस्थमा की शिकायत होने पर करेला चमत्कारी असर दिखाता है. दमा रोग में करेले की बगैर मसाला सब्जी खाने से लाभ मिलता है.

3.रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है करेला -

हमारी सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद होता है. करेले में ढेरों पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो हमारे रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है. आप करेले की जगह करेली की पत्तियों का इस्तेमाल करके भी फायदा पा सकते हैं. करेले की पत्तियों को पानी में उबालकर पीने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और किसी प्रकार का संक्रमण होने का खतरा कम हो जाता है.

4.बवासीर -

कब्ज की समस्या धीरे-धीरे बवासीर का रूप ले लेती है. यह एक गंभीर समस्या है. आपको बता दें इस समस्या से छुटकारा पाने में करेला आपकी मदद कर सकता है. खूनी बवासीर में करेला बहुत ही फायदेमंद होता है. एक चम्मच करेले के रस में आधा चम्मच शक्कर मिलाकर पीने से इससे राहत मिलती है.

5.त्वचा के लिए फायदेमंद -

नींबू के रस के साथ करेले के रस को मिलाकर अगर आप इसे अपने चेहरे पर लगाते हैं, तो इससे मुंहासे ठीक हो जाते हैं और त्वचा से संबंधित रोग नहीं होते हैं. करेले में ऐसे गुण पाए जाते हैं, जो मुंह से पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म कर देते हैं, जिससे मुहांसों की समस्या नहीं होती है.

6.जोड़ों में दर्द से छुटकारा -

जिन लोगों को जोड़ों के दर्द की समस्या रहती है, उन्हें नियमित रूप से करेले का सेवन करना चाहिए. इससे उनकी यह समस्या धीरे-धीरे ठीक हो जाती है. खासकर घुटने के दर्द के लिए यह एक रामबाण इलाज है.

7.चोट लग जाने पर -

चोट लग जाने की वजह से घाव अगर बहुत गहरा हो गया है और यह जल्दी ठीक नहीं हो रहा है, तो दिन में कम से कम एक बार किसी भी रुप में करेले का सेवन करें. आप इसका कोई डिश बनाकर खा सकते हैं या फिर करेले का जूस भी पी सकते हैं. इससे दर्द से राहत तो मिलेगा ही, साथ ही संक्रमण होने से भी बचाएगा. इसके अलावा करेले के जड़ को पीसकर उसे घाव पर लगाने से घाव जल्दी भर जाएगा.

8.मुंह के छालों को दूर करता है -

कई बार गर्मियों के मौसम में शरीर में गर्मी हो जाने की वजह से मुंह में छालों की समस्या हो जाती है. यह काफी दर्दनाक होते हैं और इनकी वजह से कुछ भी खाने पीने में भी दिक्कत होने लगती है. ऐसी समस्या होने पर आप करेले का रस इस्तेमाल करें. इसके लिए करेले का रस निकालकर रुई की मदद से उसे छालों पर लगाएं. इससे छालों में काफी आराम मिलता है.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताएं और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments