पेट में गड़बड़ी होने पर दिखने लगते हैं ऐसे लक्षण, जरूर बरतें सावधानी

कल्याण आयुर्वेद - आपका शारीरिक स्वास्थ्य आपके पाचन तंत्र पर निर्भर करता है. जिसके पीछे आपकी फैमिली हिस्ट्री, जेनेटिक और शारीरिक बनावट मुख्य कारण होते हैं. जब आपका पाचन तंत्र सही तरीके से काम करता है. तो पेट में अच्छे बैक्टीरिया का संतुलन बना रहता है. जिसकी वजह से आप खाने से एनर्जी प्राप्त कर पाते हैं और डॉक्टर इन से आजादी मिल जाता है. वही आपका मूड भी सही रहता है और बीमारियों से बचाव होता है.

पेट में गड़बड़ी होने पर दिखने लगते हैं ऐसे लक्षण, जरूर बरतें सावधानी

पेट में गड़बड़ी होने के लक्षण -

1.बार बार पेट में गड़बड़ी होना, जैसे पेट फूलना, गैस, कब्ज, डायरिया और सीने में जलन इन लक्षणों का मतलब है कि आपका पेट खाने को पचाने और वेस्ट मटेरियल को निकालने में समस्या का सामना करना पड़ रहा है.

2.यदि आपको अक्सर थकान रहती है, तो यह पेट से जुड़ी बीमारी का संकेत हो सकता है. जिन लोगों को क्रॉनिक पट्टी की समस्या होती है उनके पेट में गड़बड़ी देखी जाती है.

3.पाचन खराब होने से आपकी नींद प्रभावित होने लगती है. पेट में गड़बड़ी होने के कारण कम नींद आने की समस्या हो जाती है. जिसके कारण थकावट रहती है. क्योंकि मूड और क्लिप को कंट्रोल करने वाला सेरोटोनिन हार्मोन पाचन तंत्र द्वारा उत्पादित होता है.

4.अगर आपको कुछ फूड को पचाने में दिक्कत होती ,है तो इसका मतलब आप कुछ फूड को लेकर इनटोलरेंट हो सकते हैं. जिसके पीछे पेट में मौजूद बैक्टीरिया की क्वालिटी खराब होना एक आम कारण हो सकती है.

5.गड़बड़ पेट के पीछे शुगर जैसी अन हेल्थी चीजों की क्रेविंग भी हो सकती है. अत्यधिक शुगर का सेवन करने से पेट में बैक्टीरिया का स्तर बढ़ने लगता है.

6.अचानक वजन बढ़ना या घटना भी खराब पाचन का एक लक्षण हो सकता है. जब आपकी गट हेल्थ असंतुलित हो जाती है तो शरीर अच्छी तरह पोषण को आकर्षित नहीं कर पाता है. वजन बढ़ना या घटना बैक्टीरिया की ओवर ग्रोथ या पोषण में कमी के कारण हो सकता है.

7.स्किन इरिटेशन भी खराब पेट का लक्षण होता है. एक्सपर्ट के मुताबिक पीलीया, टीवी, एग्जिमा, सोरायसिस जैसी हेल्थ कंडीशन पेट की समस्याओं के कारण हो सकते हैं.

8.माइग्रेन की समस्या भी होना इसी का संकेत है. कई शोध में सिर दर्द और गट हेल्थ के बीच संबंध देखा गया है.  कि जिन लोगों को अक्सर सिरदर्द की समस्या रहती है, उन्हें गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल डिसऑर्डर्स होने की आशंका ज्यादा रहती है.

9.ऑटोइम्यून प्रॉब्लम होना भी खराब गट हेल्थ का संकेत है. कुछ खराब बैक्टीरिया इन सिस्टम को प्रभावित करता है और वह अच्छे बैक्टीरिया को खतरा समझ कर नष्ट करने लगता है. जिसके कारण घट हेल्थ खराब हो जाती है.

10.पेट में गड़बड़ी होने का संकेत मूड चेंज भी होता है. गट प्रॉब्लम और नर्वस सिस्टम में इन्फ्लेमेशन होने के कारण चिंता और अवसाद जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है.

11.एक्सपर्ट के मुताबिक अगर आप इन लक्षनों और संकटों का सामना कर रहे हैं, तो गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट संपर्क करें, जिससे आपकी गट हेल्थ को सुधारने के लिए जरूरी कदम उठाए जा सकें.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर करें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments