सफेद बाल उखाड़ने से क्या होता है? यह गलती करने से पहले जान लें सच्चाई

कल्याण आयुर्वेद - सफेद बालों की समस्या आजकल बहुत कॉमन बनती जा रही है, इससे निपटने के लिए तमाम तरह के टिप्स ज्यादातर लोग अपना आते हैं. कुछ लोग महंगे महंगे प्रोडक्ट का इस्तेमाल करते हैं, तो कुछ लोग बालों में कलर करवाते हैं. ऐसे में इससे निपटने के लिए कुछ लोग बालों को तोड़ना भी शुरू कर देते हैं. दरअसल कुछ लोगों के जब एक या दो बाल सफेद आना शुरू हो जाते हैं, तो वह सिर से बालों को तोड़ने लगते हैं. अगर आप भी ऐसे लोगों में शामिल हैं, तो आपको बता दें कि इससे आपकी परेशानी खत्म होने की बजाय बढने लगती है.आइये यह समझने का प्रयास करते हैं कि ऐसा करने से क्या होता है.

सफेद बाल उखाड़ने से क्या होता है?  यह गलती करने से पहले जान लें सच्चाई

सफेद बाल तोड़ने के नुकसान -

ऐसे लोग जो सफेद बालों को तोड़ते हैं वह सावधान हो जाइए. क्योंकि ऐसा करने से आप इन परेशानियों को बुलावा देते हैं. आपको बता दें कि सफेद बालों को उखाड़ने से आपके बालों की जड़ों पर बुरा प्रभाव पड़ता है और उखाड़े गए सफेद बालों की जगह नए बालों का उगना बंद हो सकता है. इसके अलावा इससे आपकी हेयर डेंसिटी भी कम हो जाती है और आपके बाल पतले हो जाते हैं. यानी सफ़ेद बालों को उखाड़ने का काम करना कोई सही उपाय नहीं है. इसका वजह से बालों में जगह-जगह पर गंजापन आ जाता है.

इन चीजों में सफेद बाल हो सकते हैं काले -

आंवला और मेथी सीड्स, ब्लैक टी आलमंड ऑयल और लेमन जूस, हिना और कॉफी, करी पत्ता और ऑइल तोरई का तेल.

इन वजहों से सफेद हो जाते हैं आपके बाल -

खराब लाइफ़स्टाइल, बदलता पानी, तनाव, बालों में नए एक्सपेरिमेंट करना

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक और शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर करें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments