रक्तदान के होते हैं कई गजब के फायदे, जानकर नहीं होगा यकीन

कल्याण आयुर्वेद - खून हमारे शरीर के लिए बहुत ही जरूरी होता है. इसके फ्लो से ही हम कुछ कर पाते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि रक्तदान महादान माना जाता है. यह एक ऐसा दान है जिस पर आप किसी की जिंदगी बचा कर उस व्यक्ति को नई जिंदगी दे सकते हैं. आपको बता दें कि रक्त चार प्रकार के होते हैं ए, बी, ऑ और एबी, जो पॉजिटिव और नेगेटिव में देखा जाता है. जब आप रक्तदान करते हैं तब आप की खून की कई तरह से टेस्ट निकाला जाता है. जैसे एचआईवी, मलेरिया, हेपेटाइटिस आदि. आज हम आपको बताएंगे रक्तदान से जुड़ी कुछ रोचक तथ्यों के बारे में.

रक्तदान के होते हैं कई गजब के फायदे, जानकर नहीं होगा यकीन

बार बार ब्लड देने से बनता है कॉम्पोनेंट -

रक्तदान करने में करीब 20 से 30 मिनट का समय लगता है. जानकारी के लिए आपको बता दें कि खून देते समय व्यक्ति को किसी भी तरह की तकलीफ नहीं होती है. साथ ही किसी तरह के फैलने वाली बीमारी की समस्या भी नहीं होती है. कई लोगों का मानना है कि रक्तदान करने से शरीर में कमजोरी आ जाती है. पर जरूरी नहीं है कि ऐसा हो. आपको बता दें कि कई डॉक्टरों का मानना है कि बार-बार खून देने से बॉडी में खून के मुख्य कंपोनेंट जैसे आरबीसी, डब्ल्यूबीसी, प्लेटलेट्स आदि जैसी चीजें जल्दी बनने लगती है, जो शरीर के लिए अच्छा माना जाता है. साथ ही आप थोड़ी देर बाद ही अपनी दिनचर्या में वापस जा सकते हैं.

6 महीने में करते हैं रक्तदान -

यदि आप यह सोचते हैं कि रक्तदान करने से शरीर में कमजोरी होती है. चक्कर आते हैं और आप इस से डरते हैं तो ऐसा बिल्कुल भी डरने की जरूरत नहीं है. क्योंकि ऐसा कुछ भी नहीं होता है एक हेल्थी व्यक्ति रक्तदान हर छह महीने बाद कर सकता है और इससे उसके शरीर में किसी भी तरह का नुकसान नहीं होता है. सिर्फ इतना ही नहीं अगर बहुत जरूरी हो तो एक व्यक्ति रक्तदान के 1 महीने के बाद भी फिर से रक्तदान कर सकता है.

रक्तदान करने के फायदे -

1.रक्तदान करने से वजन कैलोरी बर्न होती है जिससे वजन कम करने में मदद करता है. लाल रक्त कोशिकाओं का स्तर कुछ महीने में बराबर हो जाता है. साथ में अगर आप हेल्दी डाइट और वर्कआउट करते हैं तो इससे वजन कंट्रोल में रहता है.

2.ब्लड डोनेट करने से आपके दिल की सेहत को भी फायदा मिलता है. रक्तदान करने से शरीर में आयरन की मात्रा संतुलित रहती है. जिसका असर दिल की स्वास्थ्य पर पड़ता है. दिल से जुड़ी बीमारियां और स्ट्रोक का खतरा कम हो जाता है.

3.एक स्वस्थ व्यक्ति हर 3 महीने में रक्तदान कर सकता है. ऐसे में अगर नियमित रूप से रक्तदान करते हैं तो इससे शरीर बेहतर सेहत की ओर जाता है. इसका असर आप को साफ अपनी फिटनेस पर दिखता है. ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है. ब्लड डोनेशन से आप उसकी जान बचा सकते हैं. बुरे वक्त में किसी के काम आ सकते हैं जो आपके दिल और दिमाग को खुशी देता है .

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और कर्म से लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर करें. इस पोस्ट को पढने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments