1 चम्मच शहद है महिलाओं के लिए वरदान, एंटी एजिंग होने के साथ मिलते हैं ये फायदे

कल्याण आयुर्वेद - तेजी से भागती जिंदगी के बीच फिट और स्वस्थ रहना किसी चुनौती से कम नहीं है. खासकर महिलाओं के लिए, क्योंकि वह काम परिवार और स्वास्थ्य के बीच सही संतुलन बनाने के लिए काफी मेहनत करते हैं. ऐसे में यहां सवाल यह उठता है कि महिलाएं असल में स्वस्थ है और क्या ऐसा कुछ है जो 1 फीट शरीर और दिमाग के लिए कारगर हो सकता है. स्वस्थ खाने से जीवन में बहुत सी चीजें बदल सकती हैं और तनाव और चिंता भी कम हो जाता है. आपको बता दें कि कई शोध में एक चम्मच रोजाना शहद खाने से महिलाएं हेल्दी रहती हैं.

1 चम्मच शहद है महिलाओं के लिए वरदान, एंटी एजिंग होने के साथ मिलते हैं ये फायदे

शहद के गुण -

मासिक धर्म के दौरान महिलाएं हार्मोन परिवर्तन, दर्द, चिंता, अवसाद और कमजोरी से गुजरती हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि पहले के समय में महिलाएं अपनी मजबूती के लिए शहद का प्राचीन समय से ही सेवन करती हैं, जिसने उन्हें फिट, शांत और स्वस्थ रहने में मदद की है. एंटी ऑक्सीडेंट, विटामिन और खनिजों से भरपूर शहद को लिक्विड गोल्ड के रूप में जाना जाता है. यह इसके स्वास्थ्य को समृद्ध करने वाले पोषक तत्वों के कारण है, जो प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाने में मदद करते हैं. यह एक आयुर्वेदिक औषधि के रूप में काम करता है. मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है और याददाश्त मिली सुधार करता है. मौसमी फ्लू एलर्जी बुखार सर्दी गले में खराश जैसी समस्याओं से निपटने में मदद करता है और इसमें एंटीकार्सिनोजेनिक गुण पाए जाते हैं, तो कई प्रकार के कैंसर को रोकने का काम करता है. यह शरीर के बेहतर और तेज उपचार में मदद करता है. यहां हम आपको कुछ कारण बताएंगे कि महिलाओं को इसका सेवन क्यों करना चाहिए.

1.दर्द से छुटकारा -

महिलाओं को मासिक धर्म से पहले या उसके दौरान शरीर में दर्द, पीठ दर्द या फिर दर्द जैसे कई लक्षणों का सामना करना पड़ता है. यह कुछ आम दिक्कतें हैं जिनसे लोग इस चरण के दौरान गुजरते हैं. गुनगुने पानी में एक बड़ा चम्मच शहद में अदरक की चाय के एक छोटे से हिस्से के साथ मिलाकर दर्द को ठीक करने और शरीर के सूजन को कम करने में मदद मिलती है.

2.हार्मोनल असंतुलन कम करता है -

महिलाएं हार्मोन असंतुलन की समस्या से गुजरती है, जो टेस्टोस्टेरोन स्तर में असंतुलन का परिणाम है, जो लंबे समय में प्रेगनेंसी को प्रभावित करती है. रोजाना शहद का सेवन करने से उनके स्तर को संतुलित करने में मदद मिलती है, जिससे उनकी प्रेगनेंसी में सुधार आता है.

3.एंटी एजिंग -

दर्द को ठीक करने या प्रतिरक्षा प्रणाली के अलावा शहद का सेवन और उपयोग दोनों उम्र बढ़ने के उभरते बनके तो जैसे फाइनलइन या झुर्रियों को कम करने में मदद कर सकते हैं. सुबह के समय चाय में शहद मिलाना इसका सेवन करने का सबसे अच्छा तरीका है और अगर आप इसे लगाना चाहते हैं, तो इसके लिए बस दही बेसन के साथ शहद को मिक्स कर ले और अपनी त्वचा पर लगाएं. यह आपकी त्वचा को कांच की तरह चमकाएगा.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments