बच्चों का दिमाग बनाना है तेज, तो जरूर खिलाएं ये 5 चीजें

कल्याण आयुर्वेद - हेल्थी डाइट देने से बच्चों की ग्रोथ तेजी से होती है. पौष्टिक भोजन मस्तिष्क को सकारात्मक रूप से प्रभावित करता है और इस प्रकार बच्चे के सीखने याद रखने ध्यान अवधि और व्यवहार को बढ़ाने में मदद करता है. एक संपूर्ण और स्वस्थ आहार में खनिज, विटामिन और एंटी ऑक्सीडेंट शामिल होते हैं, जो मस्तिष्क को पोषण प्रदान करता है और इसे तनाव या चिंता से बचाने में मदद करता है. इसलिए माता-पिता को अपने बच्चे की ग्रोथ के लिए स्वस्थ और हेल्दी डाइट देनी चाहिए. कुछ ऐसी चीजें हैं जो मेंटल ग्रोथ के लिए बहुत जरूरी होता है.

बच्चों का दिमाग बनाना है तेज, तो जरूर खिलाएं ये 5 चीजें

1.अंडा -

प्रोटीन और पोषक तत्वों से भरपूर अंडे में भरा बच्चों की एकाग्रता और ध्यान अवधि में सुधार करने की शक्ति होती है. अंडे की जर्दी मस्तिष्क के कामकाज में सुधार करती है. अंडे खुशी के हार्मोन सेरोटोनिन के निर्माण में मदद करते हैं, जो एक बच्चे को पूरे दिन खुश रखता है.

2.मछली -

मछली में पर्याप्त मात्रा में ओमेगा 3 फैटी एसिड, आयोडीन और जिंक पाया जाता है, जो मस्तिष्क के कार्य के लिए आवश्यक होता है. मछली दिमाग में ग्रे मैटर को तेज करती है और उम्र के कारण दिमाग को खराब होने से भी बचाती है. अध्ययनों से यह साबित हुआ है कि मछली खाने वालों में ग्रे मैटर अधिक होता है. जिससे बच्चों का मूड नियंत्रित रहता है और उसकी याददाश्त में भी सुधार आता है, जो बच्चों हर हफ्ते मछली का सेवन करते हैं, उनके उदास होने की संभावना कम रहती है. क्योंकि इसमें बहुत अधिक ओमेगा-3 वसा पाया जाता है.

3.जामुन -

जामुन में एक यौगिक पाया जाता है, जो मस्तिष्क के स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छे होते हैं. जामुन का सेवन मस्तिष्क में रक्त के प्रवाह को बढ़ाता है. सूजन रोधी होता है और नई तंत्रिका कोशिकाओं के उत्पादन में भी सहायक होता है. जामुन का सेवन बच्चों के मानसिक विकास के लिए बहुत जरूरी होता है.

4.दही -

प्रोटीन से भरपूर बिना मीठा दही दिमाग की सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है. दही में आयोडीन होता है जो मस्तिष्क को प्रभावी ढंग से कार्य करने में मदद करता है. दही प्रोटीन जिंक विटामिन बी ट्वेल्व और सेलेनियम से भरा होता है, जो मस्तिष्क के विकास के लिए महत्वपूर्ण पोषक तत्व होता है. अपने बच्चे को नाश्ते के लिए फलों और नट्स के साथ सादा दही का सेवन करवाएं.

5.संतरा -

संतरा विटामिन सी से भरपूर होता है, जो स्वस्थ मस्तिष्क के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है. संतरे के सेवन पर बच्चों में बेहतर प्रदर्शन, ध्यान केंद्रित करने में सुधार, प्रतिधारण शक्ति, एकाग्रता, पहचान जैसे लाभ होते हैं और वे अच्छे निर्णय लेने वाले भी होते हैं. संतरा बच्चे की स्कीम में भी सुधार करता है.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर ले. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments