बारिश के मौसम में करते हैं शहद का सेवन ? जानें सेहत को मिलेंगे फायदे या नुकसान

कल्याण आयुर्वेद - शहद हमारे आसपास मिलने वाली सबसे प्राकृतिक चीज ,है जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है हर घर में यह बड़ी ही आसानी से मिल जाता है तो आदमी पुलिस का कोई भी जवाब नहीं है लेकिन स्वाद के साथ ही यह दो पौष्टिक तत्वों से भी भरपूर होता है आमतौर पर लोग इसे दूध के साथ मिलाकर पीते हैं तो कुछ लोग व्यंजन बनाने में इस्तेमाल करते हैं वहीं बारिश के सीजन की शुरुआत हो चुकी है अब सवाल ये उठता है कि बारिश के मौसम में शहद का सेवन करना फायदेमंद होता है या नुकसानदायक चलिए इसके बारे में विस्तार से जानते हैं.

बारिश के मौसम में करते हैं शहद का सेवन ? जानें सेहत को मिलेंगे फायदे या नुकसान

प्रतिरोधी क्षमता प्रदान करता है शहद

आपको बता दें कि शहद बहुत ही गुणकारी होता है. इसमें कई ऐसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का काम करते हैं. इसमें एंटीबैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण भी पाए जाते हैं.

शहद में होते हैं यह पोषक तत्व -

शहद में कई प्रकार के विटामिन और लवण भी पाए जाते हैं. इसमें विटामिन ए, बी, सी, कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, कैल्शियम, जिंक, कॉपर, आयरन, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, पोटेशियम और सोडियम जैसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं. शहद से मिलने वाला यह सभी पोषक  हमारी सेहत के लिए बहुत पानी और जरूरी होता है.

शहद के सेवन से पहले कर लें यह जांच -

आपको बता दें कि शहद का इस्तेमाल करना हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है. शहद का सेवन करने से पहले आपको इस बात की जांच अवश्य करनी चाहिए, कि उपयोग में लाया जा रहा शहद असली है या मिलावटी. ऐसा इसलिए क्योंकि मिलावटी शहद सेहत पर ही विपरीत असर डालता है.

असली शहद की पहचान -

आपको बता दें कि मिलावटी शहद खाने से सेहत को भारी नुकसान झेलना पड़ सकता है, तो चलिए आपको बताते हैं कि असली शहद की पहचान आप कैसे कर सकते हैं. आपको बता दें कि असली शहद काफी गाढ़ा होता है. पानी में डालने पर भी यह आसानी से नहीं घूलता है. बल्कि सतह में जाकर बैठ जाता है. वही नकली शहद पानी में तुरंत घुल जाता है. फिलहाल शहद की शुद्धता जांच करने के लिए कोई निश्चित पैमाना नहीं है.

बारिश में शहद का सेवन अत्यंत गुणकारी है. आपको बता दें कि बारिश के मौसम में तेजी से संक्रमण का खतरा बना रहता है. सर्दी खासी बुखार जैसी समस्याएं होती रहती हैं. ऐसे में शहद का सेवन करना फायदेमंद होता है. शहद का सेवन करने से बारिश में होने वाला वायरल फीवर और सर्दी खांसी पेट का संक्रमण बैक्टीरियल इनफेक्शन जैसी कई समस्याओं से बचा जा सकता है. यदि कोई संक्रमित है तो इसका प्रयोग करने से राहत मिलेगा. आपको बता दें कि सितोपलादि जोड़ने के साथ शहद का सेवन करने से इस मौसम में फायदा मिलता है.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरुर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरुर कर लें. इस पोस्ट को पढने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments