पीरियड के दर्द से हैं परेशान ? तो अपनाएं ये घरेलू उपाय, मिलेंगे जबरदस्त फायदे

कल्याण आयुर्वेद - दर्द और बेचैनी को अक्सर मासिक धर्म का हिस्सा माना जाता है. 80% महिलाओं को अपने जीवन में कभी न कभी मासिक धर्म के दौरान दर्द का अनुभव होता है. हालांकि उनमें से कुछ के लिए यह उनके पीरियड्स की शुरुआत से लेकर मेनोपॉज तक हो सकता है. ज्यादातर महिलाओं के लिए कुछ जीवन शैली में बदलाव के माध्यम से इस दर्द को कम किया जा सकता है. जिसके बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं. आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स देंगे, जिनकी मदद से आप बिना दर्द निवारक गोलियों का सेवन किए इस दर्द को कम कर सकती हैं.

पीरियड के दर्द से हैं परेशान ? तो अपनाएं ये घरेलू उपाय, मिलेंगे जबरदस्त फायदे

1.स्वस्थ नाश्ते पर स्विच करें -

सबसे पहले आपको अपने आहार में बदलाव करना चाहिए. स्वस्थ गर्भाशय के रखरखाव को बनाए रखने में आपका आहार बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. मासिक धर्म के दौरान हार्मोन असंतुलन अक्सर अस्वास्थ्य कर भोजन की इच्छा का कारण बनता है. जब आप अपने भोजन की लालसा को स्वीकार करते हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप ऐसे चीजों का सेवन करें, जो स्वस्थ हो और आपको आवश्यक पोषक तत्व प्रदान हो. अपने आहार में ओमेगा-3 कैसे स्वस्थ फैटी एसिड को शामिल करें. फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करें. जैसे हरी सब्जियां, साबुत अनाज, फलियां आदि यह सभी पीरियड के दौरान को कम करने में मदद करते हैं.

2.व्यायाम -

शारीरिक गतिविधियों में शामिल होना भी इस दर्द को कम करने के लिए बहुत अच्छा माना जाता है. चलना, दौड़ना तेरना या योग करना आपको दर्द से राहत दिलाने में मदद कर सकता है, व्यायाम एंडोर्फिन और सेरोटोनिन हार्मोन को बनाने का काम करता है, जो प्राकृतिक दर्द निवारक के रूप में काम करता है.

3.हाइड्रेटेड रहे -

यदि आप निर्जलित है तो आपको पीरियड क्रैंप्स अधिक दर्दनाक महसूस होगा. सुनिश्चित करें कि आप दिन भर में कम से कम 2 से 3 लीटर पानी जरूर पिएं. आप अपने आहार में फलों के रस को भी शामिल कर सकते हैं, जो आपको शरीर को हाइड्रेटेड रखते हुए पोषण भी देगा.

4.हीट थेरेपी -

पीरियड के दौरान अपने शरीर को लाड प्यार करने से न केवल दर्द कम हो सकता है. बल्कि आपके शरीर को आराम भी मिलता है. महिलाएं अक्सर एंथम को कम करने और उधर क्षेत्र को आराम देने के लिए गर्म पानी की थैलियों का इस्तेमाल करती है. हालांकि जब तापमान को प्रबंधित करने और तुरंत आराम पाने की बात आती है, तो गर्म पानी की थैली थकान साबित हो सकती है.

इसका एक विकल्प पीरियड दर्द निवारक तेल का उपयोग करना है. पीरियड पेन आयल एक ऐसा विकल्प है जो दबाए हुए दालचीनी और व्यक्ति व रॉयल की अच्छाई से बनाया जाता है. इस तेल के सेल्स वार्निंग गुण पीरियड क्रैंप्स को कम करने में मदद करते हैं और तनाव से राहत दिला कर मूड को बेहतर बनाते हैं.

5.एक ब्रेक लें -

महिलाओं को अक्सर मासिक धर्म को एक निजी मामला रखने के लिए सिखाया जाता है और मासिक धर्म के बारे में बात करना. अक्सर कलंकित माना जाता है. महिलाओं से उम्मीद की जाती है कि वह दर्द सहेंगे और इसके माध्यम से काम करेंगे. काम और घरेलू जीवन से तनाव शारीरिक को बढ़ा सकता है. इसलिए आपको अपने शरीर की बात सुने चाहिए और जरूरत पड़ने पर उसे ब्रेक देना चाहिए, लोगों की बातों पर ध्यान ना देना चाहिए.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताएं और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments