पुराने से पुराने कब्ज का नामोनिशान मिटा देगा यह घरेलू रामबाण उपाय, अभी जानें

कल्याण आयुर्वेद - एक नए शोध से पता चलता है कि कब्ज को कम करने और मल को स्थिरता में सुधार करने के लिए कुछ प्रकार के फाइबर दूसरे की तुलना में अधिक प्रभावी हो सकते हैं. जुलाई में अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लीनिकल न्यूट्रीशन में प्रकाशित मेटा विश्लेषण में पाया गया कि शायरियां फाइबर विशेष रूप से पुरानी कब्ज से राहत दिलाने में मदद करते हैं.

पुराने से पुराने कब्ज का नामोनिशान मिटा देगा यह घरेलू रामबाण उपाय, अभी जानें

पेक्टिन एक प्रकार का फाइबर है जो पुराने कब रिकॉर्ड ठीक करने में मदद करता है. इस स्टडी में बताया गया है कि सभी फाइबर के स्रोत सामान्य नहीं होते हैं. जॉन स्पेंसर एक गैस्ट्रोएंट्रोल लिस्ट है जो सबसे माही डॉक्टर माने जाते हैं उन्होंने बताया कि फाइबर समग्र रूप से अधिक प्रभावी होते हैं और कुछ फाइबर कब्ज में सुधार करते हैं आइए जानते हैं फाइबर से जुड़ी पूरी जानकारी.

हिलियम फाइबर पुरानी कब्ज के लिए सबसे बड़ी राह दिखाता है -

इस मेटा विश्लेषण के लिए शोधकर्ताओं ने पुरानी कब्ज वाले व्यक्तियों में फाइबर सप्लीमेंट पर 16 परीक्षण के रिजल्ट को देखा है इन अलग-अलग तरह के स्टडी से पता चला कि सबसे अच्छा फाइबर स्रोत में साइनियम पेक्टिन इनुलिन और गेहूं की भूसी शामिल है इस स्टडी ने दावा किया कि जिन लोगों ने दो चम्मच साइनियम का सेवन किया था उन्होंने ज्यादा मल त्याग किया जबकि पेक्टिन फाइबर को भी इसका दूसरा कारण बताया है. लेकिन इस प्रकार के फाइबर पर समग्र रूप से कम डाटा था शोधकर्ताओं का कहना है कि जो लोग कंबल प्यार कठोर मल और तनाव का अनुभव करते हैं और पुरानी कब्ज की समस्या से जूझ रहे हैं उनके साइनियम सबसे पहला सप्लीमेंट बताया गया जबकि सूजन अप पुलिस और जैसे अन्य लक्षणों का अनुभव करने वाले लोगों के लिए यह सबसे प्रभावी उपचार नहीं हो सकता है.

अपने आहार में अधिक फाइबर कैसे शामिल करें -

साइनियम प्लांटागो ओवता पौधे के बीजों की भूसी से तैयार किया जाता है जो आम तौर पर भारत में पाया जाता है. कई अध्ययनों से यह पता चला है कि फाइबर का यह रूप पानी के साथ मिलाकर सेवन करने पर कठोर मल को गाढ़ा बनाता है.

अन्य सबसे उपयोगी सप्लीमेंट पेक्टिन उन फलों और सब्जियों में अधिक व्यापक रूप से पाया जाता है, जो हम नियमित रूप से खाते हैं. जैसे सेब, गाजर, संतरा, अंगूर, नींबू आदि शोध से पता चला कि पेक्टिन सप्लीमेंट लेने वाले लोगों ने शौचालय पर कम समय बिताया और अधिक बार मल त्याग का अनुभव किया.

फाइबर 108 माइक्रोबायोम का बढ़ावा देकर और कब्ज से राहत देकर स्वास्थ्य समस्याओं को सुधार करता है. पुरानी कब्ज के अधिकांश रोगियों को पहले ज्यादा फाइबर का सेवन करने की सलाह दी जाती है. वही डॉक्टर ने बताया कि फाइबर सेवन के साथ भरपूर पानी पीना चाहिए. जिससे कठोर मल गाढ़ा हो और शौचालय के वक्त शरीर का मल साफ हो जाए. हालांकि फाइबर आमतर पर सुरक्षित हस्तक्षेप है. बहुत अधिक फाइबर का सेवन करने से गैस और सूजन की  समस्या हो सकती है यह भी ध्यान देने योग्य है कि प्रत्येक व्यक्ति को थोड़ी अलग मात्रा में फाइबर की आवश्यकता होती है. उनके पेट के स्वास्थ्य के आधार पर कुछ लोगों को 1 दिन में 10 ग्राम से अधिक की आवश्यकता हो सकती है और अन्य को कम की आवश्यकता हो सकती है.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments