वेट लॉस के लिए करते हैं ग्रीन टी का अधिक सेवन, तो हो सकते हैं ये खतरनाक परिणाम

कल्याण आयुर्वेद - जो लोग अपनी फिटनेस को लेकर जरा सा भी जागरूक है, वह बड़ी ही उम्मीदों से ग्रीन टी का सेवन करते हैं. इसकी मदद से बढ़ता हुआ वजन कम किया जा सकता है और साथ ही रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ जाती है और पीने से फायदे मिलते हैं. लेकिन कहा जाता है कि किसी भी चीज की अति सही नहीं होती है. ग्रीन टी के साथ भी ऐसा ही कुछ है. आज के पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि अगर आप ग्रीन टी का सेवन अधिक कर रहे हैं, तो इससे आपको क्या नुकसान झेलने पड़ सकते हैं.

वेट लॉस के लिए करते हैं ग्रीन टी का अधिक सेवन, तो हो सकते हैं ये खतरनाक परिणाम

जरूरत से ज्यादा ग्रीन टी पीने के नुकसान -

1.अगर आप तय मात्रा से ज्यादा ग्रीन टी का सेवन करते हैं, तो इससे आपको पेट में जलन, मरोड़ और एड्स जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. इसे ज्यादा पीने से पेट में एसिड बनना शुरू हो जाता है और इससे दस्त का भी खतरा पैदा होने लगता है, जो लोग बॉवेल सिंड्रोम का सामना कर रहे हैं उन्हें ग्रीन टी का सेवन बिलकुल भी नहीं करना चाहिए.

2.बहुत ज्यादा ग्रीन टी का सेवन करने से सिर में दर्द की समस्या भी हो सकती है. क्योंकि इसमें मौजूद कैफीन के कारण माइग्रेन की बीमारी को दावत मिलती है. अगर आपको भी क्या फिर से जुड़ी एलर्जी होती है तो इस पर पदार्थ का सेवन ना करें.

3.ग्रीन टी में कैफीन की मात्रा पाई जाती है. जिससे नींद भी प्रभावित होता है. यह हर्बल टीम मेलाटोनिन नामक हार्मोन को डिसबैलेंस करने लगती है, जो नींद लाने में मदद करता है. इसलिए जो 8 घंटे की नींद सही से नहीं ले पाते हैं उन्हें ग्रीन टी का सेवन नहीं करना चाहिए.

4.जिन लोगों को कब्ज की शिकायत है, उन्हें जरूरत से ज्यादा ग्रीन टी नहीं पीनी चाहिए .आमतौर पर 1 दिन में 3-4 कप ग्रीन टी काफी है.

आइए अब जानते हैं सही मात्रा में ग्रीन टी का सेवन करने के फायदे -

नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट के अनुसार, ग्रीन टी में पॉलीफेनॉल पाया जाता है जो ट्यूमर वृद्धि को कम करने में मदद करता है और पराबैगनी यूवी किरणों के कारण होने वाली क्षति के खिलाफ सुरक्षा भी करता है. ग्रीन टी का सेवन करने से कैंसर का खतरा कम हो जाता है.

1.ह्रदय के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद -

एक अध्ययन में निष्कर्ष निकाला गया कि ग्रीन टी मृत्यु दर को कम करते हैं और साथ ही कार्डियोवैस्कुलर बीमारी और इसके सभी कारणों को कम करने से जुड़ी होती है. एक अध्ययन में बताया गया कि प्रतिदिन कम से कम पांच कप ग्रीन टी पीने वाले लोगों की तुलना में ग्रीन टी पीने वाले लोगों को मरने का काफी ज्यादा जोखिम था. ग्रीन टी में ऐसे योगिक पाए जाते हैं जो आपके हृदय को स्वस्थ रखने का काम करता है.

2.ग्रीन टी पीने से कोलेस्ट्रॉल कम होता है -

ग्रीन टी का नियमित सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद मिलता है. ऐसे में जिन लोगों को कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की शिकायत है उन्हें इसका सेवन अवश्य करना चाहिए.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और कर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments