बिना छिले कभी ना खाएं बादाम, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

कल्याण आयुर्वेद - बादाम को मेवा से ज्यादा लोग ड्राई फ्रूट के नाम से जानते हैं. इसका पेड़ मध्यम आकार का होता है. जिस पर गुलाबी और सफेद रंग के फूल लगते हैं. दिमाग के लिए बादाम का सेवन करना रामबाण मान जाता है. यह पेड़ पहाड़ी क्षेत्रों में अधिक पाया जाता है. देखा जाए तो बादाम के पेड़ एशिया में ईरान, इराक, मक्का सिराज आदि स्थानों पर ज्यादा पाया जाता है. अगर इसका सही ढंग से सेवन करना आ जाए, तो अपने दिमाग के न्यू रोल को एक्टिव करने में आसानी हो जाती है. अगर आपको भी नहीं पता है कि बादाम का सेवन कैसे करना है, तो आइए आज हम आपको बताएंगे कि बादाम का सेवन कैसे करना चाहिए.

बिना छिले कभी ना खाएं बादाम, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

इन कारणों से ना करें छिलके सहित बादाम का सेवन -

1.बादाम में टैनिन नामक कंपाउंड पाया जाता है. इसका सेवन करने से शरीर में बादाम के पूरे पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं इसलिए हमें बादाम का सेवन छिलके सहित नहीं करना चाहिए.

2.दिमाग में जो अक्सर कई लोग जल्दी के कारण सूखे बादाम का सेवन करने लगते हैं. ऐसा करने से शरीर में पित्त का असंतुलन बढ़ने लगता है, जिससे आप बीमारियों के चपेट में आ सकते हैं. इसलिए बादाम के छिलके सहित खाने से परहेज करना चाहिए.

3.चिल्का समेत बादाम खाने से उसकी कुछ कर आपकी आंखों में जाकर फस जाते हैं, जिसके कारण आपको पेट दर्द जलन गैस बनने की संभावना होने लगती है. इसलिए बादाम को छीलकर बढ़ाना चाहिए.

कैसे करें बादाम का सेवन -

बादाम को घर में पकवान बनाने के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन जो लोग रोजाना बादाम का सेवन करते हैं, उनके लिए इस तरह से बादाम का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है. बादाम का सेवन करने के लिए सबसे पहले रात को इसे पानी में भिगोकर छोड़ दें और सुबह उठकर छिलके को आसानी से निकालकर इसके बाद इसका सेवन करें. ऐसा करने से बादाम की गर्मी कम हो जाती है. बादाम का सेवन सुबह दूध में डालकर भी कर सकते हैं साथ ही इसे रोके शाम के समय स्नैक्स के रूप में खा सकते हैं.

आइए जानते हैं भीगे हुए बादाम खाने के 5 फायदे -

1.भीगे हुए बादाम में विटामिन ई के साथ एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं, जो आपकी कोशिकाओं को डैमेज होने से बचाते हैं. यह झुर्रियों और बेजान त्वचा से राहत दिलाने में मदद करते हैं.

2.भीगे हुए बादाम खाने से बॉडी में एक जैसे कुछ एंजाइम रिलीज होते हैं. यह मेटाबॉलिज्म को बूष्ट करते हैं और वेट लॉस करने में भी मददगार साबित होते हैं.

3.बादाम को भिगोकर खाने से दिमाग भी तेज होता है. इसमें पाए जाने वाले विटामिन ई दिमागी क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है. इससे आपकी याददाश्त बढ़ती है. इसलिए बच्चों को बादाम का सेवन जरूर करवाना चाहिए.

4.बादाम को भिगोकर खाने से हमारे डाइजेशन भी बहुत अच्छा रहता है. एक तो यह भिगोने के बाद काफी मुलायम हो जाते हैं और इन्हें चबाना और पचाना दोनों बहुत आसान हो जाता है.

5.बादाम को भिगोकर खाने से इसकी वह अशुद्धियां भी खत्म हो जाती है, जो शरीर को कुछ पोषक तत्व को एब्जोर्ब करने से रोकती हैं, जो आपके शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है और आपके शरीर में पोषक तत्वों की कमी नहीं रहती है.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक और शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर करें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments