रोज करें शहद का सेवन, मिलेंगे ये जबरदस्त फायदे, जानकर रह जाएंगे हैरान

कल्याण आयुर्वेद - शुगर का सेवन करना हमारे सेहत के लिए अनहेल्थी माना जाता है. लेकिन सभी शुगर अन हेल्थी नहीं होते हैं. जिन चीजों में प्राकृतिक रूप से चीनी पाया जाता है. उनका सेवन करना हानिकारक नहीं होता है. जैसे हम बात करें शहद की तो यह प्राचीन काल से प्राकृतिक स्वीटनर के साथ-साथ औषधीय उपयोग में इस्तेमाल किया जा रहा है. आयुर्वेद में शहद को मधु कहा जाता है और इसका उपयोग आंतरिक और बाहरी दोनों अनुप्रयोगों के लिए किया जाता है. ग्रुप तो और ग्लूकोस के अलावा शहद में एंटी ऑक्सीडेंट, एंजाइम, विटामिन, मैग्नीशियम और पोटेशियम जैसे खनिज पदार्थ पाए जाते हैं. ग्लाइसेमिक इंडेक्स पर चीनी की तुलना में शहद कम है. जिसका अर्थ है कि यह आपके ब्लड शुगर के लेवल को चीनी की तुलना में धीरे-धीरे बढ़ाता है.

रोज करें शहद का सेवन, मिलेंगे ये जबरदस्त फायदे, जानकर रह जाएंगे हैरान

शहद सभी के लिए कई तरह से फायदेमंद होता है. यह दिल की सेहत के लिए त्वचा के लिए भी अच्छा होता है. वह डिटॉक्सिफिकेशन करने में भी मदद करता है. हालांकि आयुर्वेद गर्म शहद के सेवन करने के खिलाफ है. क्योंकि यह एंजाइमों को नष्ट कर देता है और एसिड को पैदा करता है तथा पाचन क्रिया को बाधित करता है. आज के इस पोस्ट में हम आपको शहद खाने के जबरदस्त फायदे बताने जा रहे हैं.

आयुर्वेद के अनुसार शहद के कुछ जबरदस्त फायदे -

1.आंखों के लिए फायदेमंद -

सबसे पहले आपको बता दें कि शहद का सेवन करना आंखों की परत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है. शहद का सेवन करने से आंखों की रोशनी बढ़ाने में मदद मिलती है. साथ ही आंखों में होने वाले दर्द जलन जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलता है इस तरह यह आपके आंखों के लिए अच्छा होता है.

2.हृदय के लिए फायदेमंद -

शहद आपके हृदय के स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद होता है. दरअसल यह आपके शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने का काम करता है, जो कि हिर्दय रोग का सबसे बड़ा कारक होता है. ऐसे में यह आपके हृदय को स्वस्थ रखने का काम करता है, जिन लोगों को बैड कोलेस्ट्रॉल की समस्या है उन्हें अपनी डाइट में शहद को जरूर शामिल कर लेना चाहिए.

3.इम्यून सिस्टम मजबूत करता है -

हमारी इम्यूनिटी का मजबूत होना हमेशा से ही बहुत जरूरी होता है. परंतु इस बात पर कोरोनावायरस महामारी के बाद बहुत ज्यादा ध्यान दिया गया और इस दौरान लोगों ने ऐसी बहुत सारी चीजों के बारे में जाना जो इम्यून सिस्टम को मजबूत करते हैं, जिनमें से एक है शहद. शहद में अनगिनत औषधीय गुण होते हैं, जो स्वभाविक रूप से गले में खराश को ठीक करने में मदद करते हैं. इसकी एंटी ऑक्सीडेंट और बैक्टीरिया से लड़ने की शक्ति वायरल बैक्टीरिया और कवक के कारण होने वाले इन्फेक्शन से लड़ने में मदद करता है. अगर आप रोजाना इसका सेवन करते हैं तो यह आपकी इम्यूनिटी को बढ़ाने में बहुत मदद करता है. इस जहाज को सबसे अच्छा इम्यूनिटी बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थों में से एक माना जाता है.

4.त्वचा और चेहरे को पोषण देता है -

सेहत के साथ-साथ शहद आपकी त्वचा के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है. शहद के अंदर मॉइश्चराइजिंग और पौष्टिक गुण भरपूर पाए जाते हैं, जो आपकी त्वचा को नमी प्रदान करता है और त्वचा से जुड़ी समस्याओं को दूर करता है. यदि आपकी त्वचा शुष्क है, तो आप इसका इस्तेमाल करें. इसे लगाना बहुत ही आसान है. शहद ना केवल रोम छिद्रों को बंद करता है, बल्कि यह सूखी त्वचा को मॉइश्चराइज करने में भी मदद करता है. खासकर सर्दियों के दिनों में फटे होठों को ठीक करने में भी बहुत मदद करता है. कई लोग त्वचा की समस्याओं को दूर करने के लिए शहद का मास्क भी इस्तेमाल करते हैं.

5.याददाश्त बढ़ाने में मददगार -

हम जो भी कहते और करते हैं वह बहुत ही महत्वपूर्ण होता है, इसलिए हमें अपनी डाइट में उन खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए जो बुढ़ापे में हमारे मानसिक स्वास्थ्य को मजबूत बनाने में मदद करें. जैसे कि शहद. शहद का सेवन कर सकते हैं या प्राकृतिक स्वीटनर होता है और इसके कई स्वास्थ्य लाभ है, जिसमें मेमोरी और एकाग्रता को बढ़ावा देना भी शामिल है. शहद ना केवल दिमाग की शक्ति और याददाश्त को बढ़ाता है. बल्कि आपके पूरे स्वास्थ्य को सही कर देता है. शहद का सेवन मेटाबोलिक इस ट्रेन को रोकता है और मस्तिष्क को शांत करने में मदद करता है. जिससे लंबे समय के लिए यादाश्त को बढ़ाने में मदद मिलती है.

6.खांसी के लिए अच्छा घरेलू उपाय -

शहद को सुखी खांसी के साथ-साथ गीली खांसी के उपचार के लिए सबसे अच्छा घरेलू उपायों में से एक माना जाता है. एक शोध से यह पता चला है कि एक चम्मच शहद का सेवन करने से गले में जलन की समस्या भी कम हो जाती है. शहद खांसी के लिए पसंदीदा प्राकृतिक उपचार है. खासकर बच्चों के लिए क्योंकि यह रात की खांसी को दूर करने में भी मदद करता है, जिससे अच्छी नींद आने में सहायता मिलती है.

7.घाव भरने में मददगार -

कुछ लोगों के साथ यह समस्या होती है, कि उनका घाव जल्दी नहीं भरता है. ऐसे में शहद का इस्तेमाल किया जा सकता है. शहद में एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल और एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, जिसके कारण शहद का इस्तेमाल घाव को भरने के लिए किया जाता है. त्वचा की किसी भी प्रकार की चोट के बाद आपकी त्वचा पर रहने वाले बैक्टीरिया गांव की जगह को इन्फेक्टेड कर सकते हैं. शहद का इस्तेमाल करने से यह जीवाणु नष्ट हो जाते हैं, जिससे आपको कोई भी इन्फेक्शन नहीं होता है.

8.नींद लाने में मददगार -

यदि आप अच्छी तरह से नहीं सो पाते हैं या आपको सोते समय परेशानी होती है, तो इसका इलाज शहद की सहायता से हो सकता है. बस आपको सोने से पहले गर्म दूध और शहद से बने ड्रिंक को पीना है. सर्दियों से लोग इस पेय का उपयोग सोने में मदद करने के लिए करते आ रहे हैं. यह पेय बनाना भी बहुत आसान होता है. आपको बस एक गिलास गर्म दूध में एक चम्मच शहद मिलाकर सेवन करना है. ऐसा करने से आपको अच्छी नींद आती है.

9.साइनस की समस्या दूर करता है -

आजकल बढ़ते प्रदूषण और धूल के कारण बहुत से लोग पाइनस पर संबंधित समस्याओं से पीड़ित है. साईनस हमारे खोपड़ी में छोटे-छोटे गुहा होते हैं, जो हमारे स्वसन तंत्र को एलर्जी और संक्रमण से बचने के लिए म्यूकस या बलगम का निर्माण करते हैं. जब हमें किसी प्रकार का इंफेक्शन हो जाता है, तो उसे इन्फेक्शन के वायरस साइनस को ब्लॉक कर देते हैं, जो संकट का कारण बनता है. इसके इलाज के लिए शहद का इस्तेमाल किया जाता है कि किस तरह एक प्राकृतिक एंटीबैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक होता है, जो संक्रमण को दूर करने और सूजन को कम करने में मदद करता है.

10.मसूड़ों के समस्याओं से छुटकारा -

शहद के एंटी बैक्टीरियल और इन्फेक्शन हीलिंग गुण घाव को भरने और उनके इलाज में मदद करते हैं. शहद के नियमित इस्तेमाल करने से दांतों और मसूड़ों की बीमारियों जैसे मसूड़े की सूजन ब्लीडिंग और प्लाक का काफी हद तक इलाज कर सकते हैं. एंटीसेप्टिक हाइड्रोजन पेरोक्साइड को रिलीज करने के लिए जाना जाता है, जो एंटीमाइक्रोबियल्स एजेंट के रूप में काम करता है और बैक्टीरिया के विकास को रोकता है. विशेषज्ञों की सलाह है कि कच्चे शहद के पानी का उपयोग माउथवॉश के रूप में कर सकते हैं. इसके अलावा प्रभावित मसूड़ों पर सीधे शहद लगाने से दर्द और सूजन कम होता है.

इन बातों का रखें ध्यान -

शहद को गर्म चीज हो या पानी के साथ नहीं मिलाना चाहिए. गर्म वातावरण में काम करते समय शहद का सेवन ना करें. सेहत को कभी भी घी के साथ गर्म न करें. साथ ही मसालेदार भोजन के साथ इसका सेवन ना करें.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरुर करें. इस पोस्ट को पढने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments