पेशाब करते समय होती है जलन और तेज दर्द ? तो जानिए शरीर में क्या है दिक्कत

कल्याण आयुर्वेद - यूरिन पास करने के दौरान क्या आपको जलन और दर्द का एहसास होता है, अगर हां तो यह एक बहुत बड़ी समस्या का संकेत हो सकता है. बहुत से ऐसे लोग हैं जिन्हें कभी ना कभी यूरिन पास करते समय दर्द की समस्या का सामना करना पड़ता है. इसे लेकर मिसिसिपी कि एक स्त्री रोग विशेषज्ञ ने कहा कि उनके पास आने वाले मरीजों में 30 फ़ीसदी लोगों को यूरिन पास करने के दौरान दर्द का सामना करना पड़ता है.

पेशाब करते समय होती है जलन और तेज दर्द ? तो जानिए शरीर में क्या है दिक्कत

यूरिन पास करते समय होने वाला दर्द कई तरह के इंफेक्शन का संकेत देता है, जिन्हें ठीक करने के लिए ट्रीटमेंट की जरूरत पड़ती है. ऐसे में यह जानना बहुत जरूरी है कि आखिर किन कारणों के चलते यूरिन पास करते समय दर्द और जलन जैसी समस्याएं होती हैं, तो चलिए जानते हैं इसके पीछे के कारण.

1.यूरिनरी ट्रैक्ट इनफेक्शन -

यूरिनरी ट्रैक्ट इनफेक्शन का सामना किसी को भी करना पड़ सकता है. लेकिन यह इन्फेक्शन महिलाओं में ज्यादा देखने को मिलता है. इस इंफेक्शन के चलते महिलाओं को यूरिन पास करते समय दर्द का सामना करना पड़ता है. यह इन्फेक्शन तब होता है जब बैक्टीरिया यूरिन पाइप के जरिए आपके ब्लैडर में प्रवेश कर जाते हैं. ब्लैडर में पहुंचने के बाद यह बैक्टीरिया काफी तेजी से बढ़ने लगते हैं और यूरिन को एसिडिक बना देते हैं. जिस कारण जब आप यूरिन पास करते हैं तो आपको जलन का एहसास होता है. यूरिन पास करते समय दर्द के साथ ही यूटीआई होने पर आपको बार-बार यूरिन पास करने की जरूरत महसूस होती है. यूटीआई होने पर क्लाउडरी यूरीन और यूरिन में स्मेल आने के लक्षण भी दिखाई देते हैं.

2.सिस्टाइटिस -

सिस्टाइटिस एक ऐसी समस्या है जिसने ब्लैडर में सूजन आ जाती है. बहुत से मामलों में बैक्टीरियल इंफेक्शन के कारण सिस्टाइटिस की समस्या का सामना करना पड़ता है. जिसके चलते यूरिन पास करते समय दर्द होता है दवाइयों और ट्रीटमेंट की मदद से सिस्टाइटिस की समस्या से निपटा जा सकता है.

3.किडनी इन्फेक्शन -

अगर आपको यूरिन पास करते समय दर्द और खून निकल रहा है, तो इसका मतलब है कि आपके यूरिन इन्फेक्शन का प्रभाव किडनी ऊपर पड़ रहा है. यह काफी खतरनाक साबित हो सकता है. किडनी इन्फेक्शन के बाकी लक्षणों में बुखार आना पेट में दर्द और ठंड लगना जैसे शामिल है. किडनी इन्फेक्शन का समय पर इलाज न किया जाए तो हॉस्पिटल में एडमिट होने की नौबत भी आ सकती है. किडनी में होने वाले इन्फेक्शन आपकी पूरे खून में फैल सकता है जो काफी खतरनाक साबित होता है.

4.किडनी और ब्लैडर स्टोन -

जब यूरिन में मौजूद तत्व एक साथ चिपक जाते हैं और क्रिस्टलाइज्ड हो जाते हैं तो इसे स्टोन कहा जाता है. स्टोन आपकी किडनी और ब्लैडर दोनों में हो सकते हैं. लेकिन जब ब्लैडर में मौजूद स्टोन ब्लैडर की लाइनिंग को परेशान करना शुरू कर देते हैं या किडनी में मौजूद स्टोन गलत जगह पर अटक जाता है, तो इससे यूरिन का फ्लो ब्लॉक हो जाता है, जिस कारण आपको यूरिन पास करते और बाकी समय पेट में काफी ज्यादा दर्द रहता है. स्टोन का साइज छोटा होने पर डॉक्टर आमतौर पर ज्यादा मात्रा में पानी पीने की सलाह देते हैं. ताकि यह यूरीन के साथ बाहर निकल जाए, लेकिन अगर यह आसानी से नहीं निकल पाता है, तो इसको ऑपरेशन के जरिए निकाला जाता है.

5.वजाइनल टियर -

महिलाओं को प्राइवेट पार्ट ड्राई रहने की वजह से सेक्स के दौरान योनि में घाव हो जाते हैं, जिससे यूरिन पास करने के दौरान जलन और दर्द की समस्या हो सकती है. मैनोपोज के दौरान भी महिलाओं को प्राइवेट हाथ में हल्के घाव और यूरिन पास करते समय दर्द हो सकता है. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि मेनोपोज के दौरान हार्मोन चेंज के कारण वजाइना की वाल और योनि की स्किन काफी पतली हो जाती है, जिससे इसमें अपने आप ही घाव बन जाते हैं जिससे यूरिन पास करने में दर्द होता है.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments