टाइप टू डायबिटीज के साथ बेड कोलेस्ट्रोल को घटाने में भी मददगार है सूजी, जानें इसके जबरदस्त फायदे

कल्याण आयुर्वेद - सूजी और रवा नाश्ते से लेकर डेजर्ट तक में इस्तेमाल होने वाला एक जरूरी इनग्रेडिएंट है, जो न केवल देश का स्वाद और टेक्सचर बढ़ाता है, बल्कि सेहत को भी कई सारे फायदे देता है. सूजी में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर जैसे पोषक तत्वों के साथ कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, जिंक, सोडियम जैसे मिनरल्स शामिल होते हैं. सूजी दरअसल गेहूं के छिलके को बारीक पीसकर तैयार किया जाता है. इसमें मिनरल्स और विटामिंस होते हैं जो हमारे शरीर को फायदा पहुंचाते हैं.

टाइप टू डायबिटीज के साथ बेड कोलेस्ट्रोल को घटाने में भी मददगार है सूजी, जानें इसके जबरदस्त फायदे

1.कोलेस्ट्रोल घटाने में मददगार -

सूजी में विटामिन B3 जिसे नियासिन के नाम से भी जाना जाता है. इसकी भरपूर मात्रा पाई जाती है. हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार नियासिन की आवश्यकता मात्रा से बैड कोलेस्ट्रॉल आसानी से कम किया जा सकता है. अगर आपकी शरीर में अधिक कोलेस्ट्रॉल की समस्या है, तो आपको सूजी को अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए.

2.वजन घटाने में मददगार -

वजन घटाने में फाइबर रिच फूड बहुत ही अहम भूमिका निभाते हैं. इसका सेवन करने से पेट लंबे समय तक भरा हुआ रहता है, जिससे ओवर ईटिंग से बचा जा सकता है. आपको बता दे सूजी में फाइबर की मात्रा भी होती है. इसलिए आप ब्रेकफास्ट में उपमा अपम जैसे ऑप्शन को शामिल करें. यह हेल्दी होने के साथ-साथ वजन को कंट्रोल करने में भी मदद करते हैं.

3.आयरन की कमी दूर करने में मददगार -

सूजी में आयरन की की भरपूर मात्रा पाई जाती है. आयरन की कमी से आपको एनीमिया की बीमारी हो सकती है जिससे कई तरह की शारीरिक समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं. अगर आप इससे बचना चाहते हैं तो अपनी डाइट में सूजी को शामिल करें सूची को आप कई तरीके से खा सकते हैं. आप इसके कई तरह के डिशेस बनाकर देश को भी बढ़ा सकते हैं और अपने स्वास्थ्य को भी बरकरार रख सकते हैं.

4.टाइप टू डायबिटीज का खतरा होता है कम -

सूजी का सेवन करने से आपको टाइप टू डायबिटीज का खतरा भी कम होता है. आपको बता दें कि सूजी में डाइटरी फाइबर पाया जाता है जो ग्लाइसेमिक को कंट्रोल करने में मदद करती है. जिससे आप टाइप टू डायबिटीज से बच सकते हैं.

5.इम्यूनिटी बनाता है स्ट्रांग -

जैसा कि हमने आपको बताया सूजी में जिंक, मैग्नीशियम, विटामिन बी सिक्स जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो माइक्रोन्यूट्रिएंट्स की तरह काम करते हैं और इम्यून सिस्टम को चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने में मदद करते हैं.

परंतु आपको बता दें कि इतने फायदे के बावजूद भी सूजी से आपको नुकसान हो सकता है. जी हां किसी भी चीज का सेवन अगर हद से ज्यादा किया जाए तो यह नुकसान पहुंचाता है. उसी प्रकार अगर आप सूजी का ज्यादा सेवन करते हैं तो आपको निम्नलिखित नुकसान हो सकते हैं -

1.सूजी में फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है. इसलिए अगर आप इसका सेवन सीमित मात्रा में करते हैं, तो आपके लिए फायदेमंद होता है. परंतु ज्यादा मात्रा में इसका सेवन करने से पेट फूलने लगता है. इसके साथ ही आपको सूजन और पेट में ऐठन की प्रॉब्लम भी हो सकती है.

2.इसमें फास्फोरस की पाया जाता है, जो अगर ज्यादा सेवन किया जाए तो शरीर में फास्फोरस की मात्रा बढ़ जाती है. यह किडनी की बीमारी से जूझ रहे लोगों के लिए बहुत ही नुकसानदायक होता है.

3.सूजी में फोलेट की भी अच्छी खासी मात्रा पाई जाती है, तो यहां इसे ज्यादा मात्रा में खाने से पेट दर्द, नींद ना आना और डायरिया जैसी समस्याएं हो सकती हैं.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments