माइग्रेन की समस्या से हैं परेशान ? तो इन घरेलू उपायों से तुरंत मिलेगा छुटकारा

कल्याण आयुर्वेद - सिर दर्द का इलाज मुश्किल होता है, जब भी माइग्रेन शुरू होता है तो हम दवा का सहारा लेना शुरू कर देते हैं या फिर बाम से राहत पाने की कोशिश करते हैं. यह सब चीजें तो सिर के दर्द में आराम पहुंचा देती है. लेकिन फिर भी शरीर को नुकसान पहुंचाती है. लंबे वक्त तक अगर इसका इलाज न किया जाए तो यह खतरनाक साबित हो सकता है.

माइग्रेन की समस्या से हैं परेशान ? तो इन घरेलू उपायों से तुरंत मिलेगा छुटकारा

दर्द तो कई होते हैं. लेकिन अगर सिर दर्द की परेशानी हो तो इससे छुटकारा पाना काफी मुश्किल माना जाता है. सिर दर्द की परेशानी ऐसी है जो केवल वही समझ सकता है, जो इस दर्द को झेल रहा है. माइग्रेन की परेशानी होने पर दिमाग चिड़चिड़ा हो जाता है और कई बीमारियां अपने आप घूमने लगती है.

आज के इस पोस्ट में हम आपको सिर दर्द की परेशानी को दूर करने के लिए कुछ घरेलू नुस्खे बताने जा रहे हैं, जो काफी ज्यादा असरदार होते हैं और फायदेमंद भी होते हैं. इस दर्द से आपको जल्द राहत दिलाने में मदद करते हैं.

1.जीरा और इलायची -

सिर दर्द में अक्सर हमें चाय पीने की आदत होती है और इससे काफी जबरदस्त फायदा भी मिलता है. माइग्रेन की परेशानी होने पर आपको खाली पेट जीरे और इलायची की चाय पीनी चाहिए. याद रखें कि इस चाय में दूध नहीं केवल पानी डालना है और अच्छी तरह से उबाल कर पीना है. जीरा इलायची की चाय पीने से चिड़चिड़ापन तनाव और पाचन से जुड़ी परेशानियां भी दूर हो जाती है रात के वक्त भी चाय पी सकते हैं.

2.भीगे हुए किशमिश -

इसमें कई सारे पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो सिर दर्द की परेशानी को दूर करने का काम करते हैं. अगर आप रोजाना रात में किशमिश भिगोकर सुबह भीगी हुई किशमिश खाएंगे, तो सिर का दर्द छूमंतर हो जाएगा. सिर दर्द के 1 कारणों में से एक एसिडिटी भी होती है. एसिडिटी होने पर भी सिर दर्द होता है. किशमिश खाने से यह परेशानी दूर हो जाती है और सिर दर्द से आराम मिलता है. रोजाना भीगे हुए 10 से 15 किशमिश खाना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है. माइग्रेन से छुटकारा पाने के लिए आपको किशमिश का सेवन खाली पेट करना चाहिए.

3.नहीं खानी चाहिए दवाई -

माइग्रेन की परेशानियों का इलाज करने के लिए लोग दवाइयों का सेवन करते हैं. लेकिन आप को बता दे अगर इसका इलाज करने के लिए दवाइयों का सेवन किया जाए, तो यह नई परेशानियों को पैदा करता है. सिर दर्द के दौरान खाए जाने वाली दवाइयां हमारी किडनी को नुकसान पहुंचाती है. अगर आपको कभी कबार सर में दर्द होता है और आप इस दवाई को खाते हैं, तो इससे कोई खास समस्या नहीं है. लेकिन अगर आपको अक्सर माइग्रेन की दिक्कत रहती है, फिर आप रोजाना इस दवाई को खाते हैं तो इससे आपकी किडनी पर बहुत बुरा असर पड़ता है. इसलिए अगर माइग्रेन की दवा के बजाय घरेलू नुस्खे को अपनाया जाए तो यह ज्यादा फायदेमंद होता है.

माइग्रेन सिरदर्द का घरेलू उपाय -

1 .माइग्रेन का अटैक आने पर व्यक्ति को बेड पर लिटाकर सिर को बेड से नीचे की तरफ लटका दें, अब सिर के जिस हिस्से में दर्द हो रहा हो उस तरफ की नाक में शुद्ध सरसों के तेल की कुछ बूंदें डालें और रोगी को ऊपर की ओर सांस लेने के लिए कहें. इस घरेलू नुस्खे से माइग्रेन सिरदर्द से कुछ ही देर में आराम मिलता है.

2 .देसी गाय की शुद्ध घी दो बूंद सुबह- शाम नाक में डालें. प्रतिदिन इस उपाय को करने से माइग्रेन सिरदर्द में काफी आराम मिलता है. कुछ दिन लगातार ऐसा करने से माइग्रेन सिरदर्द से छुटकारा मिल सकता है.

3 .माइग्रेन से तुरंत राहत पाने के लिए सिर के जिस हिस्से में दर्द हो रहा है वहां पर सरसों के गुनगुने तेल से मालिश करें और साथ में कंधे, गर्दन, हाथों और पैरों की मालिश करें. ऐसा करने से माइग्रेन सिर दर्द से तुरंत राहत मिलता है.

4 .सुबह खाली पेट सेब खाना चाहिए. माइग्रेन से छुटकारा पाने के लिए प्रतिदिन सेब का सेवन करें.

5 .नींबू के छिलकों को पीसकर उसका पेस्ट बनाकर और इस पेस्ट को माथे पर लगाएं, नियमित ऐसा करने से माइग्रेन सिरदर्द से राहत मिलती है.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर करें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments