रात में सोने से पहले नहीं पीना चाहिए दूध, सेहत को होते हैं ये नुकसान

कल्याण आयुर्वेद - बच्चों की डाइट में दूध शामिल करने का विचार स्वास्थ्य माना जाता है. विशेष रूप से भारत में ज्यादातर लोग रात को सोने से पहले अपने बच्चों को एक गिलास दूध जरूर पिलाते हैं. लेकिन क्या यह हमेशा फायदेमंद होता है. दूध बहुत सारे पोषक तत्वों से भरपूर होता है. इसमें लगभग लगभग सभी तरह के पोषक तत्व मौजूद होते हैं. खासकर इसमें विटामिन, कैल्शियम और पोटेशियम से भरपूर होता है. दूध में सभी तरह के पोषक तत्व मौजूद होने की वजह से इसे एक कंपलीट फूड भी माना जाता है.

रात में सोने से पहले नहीं पीना चाहिए दूध, सेहत को होते हैं ये नुकसान

हालांकि यह हमेशा आपके बच्चे के लिए उपयुक्त नहीं हो सकता है. बहुत से लोग सोचते हैं कि रात को सोने से पहले एक गिलास गर्म दूध पीना सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है. हालांकि ज्यादातर लोगों का ऐसा ही मानना है, लेकिन एक नए शोध से यह पता चला कि 3 साल से अधिक उम्र के बच्चों के लिए सोने से पहले गर्म दूध पीना अच्छा विचार नहीं है. ऐसा करने से आपको कई समस्याएं हो सकती हैं.

1.आपको बता दें कि अगर आप बच्चों को रात में दूध पीने को देते हैं, तो इससे उनका मेटाबोलिज में धीमा हो जाता है. हमारे शरीर का मेटाबॉलिज्म वह प्रक्रिया है, जो हमारे वजन बढ़ने और घटने के लिए जिम्मेदार होता है. अगर यह धीमा हो जाए तो सेहत के लिए नुकसानदायक होता है.

2.यदि आप वजन घटाने की कोशिश कर रहे हैं तो आपको रात में सोने से पहले दूध नहीं पीना चाहिए. इसके अलावा बच्चों को भी रात में सोने से पहले दूध देना अच्छा नहीं होता है. जिन बच्चों का वजन पहले से ही काफी ज्यादा बढ़ा हुआ है, उन्हें बिल्कुल ना दें. क्योंकि दूध में कैलोरी की मात्रा अधिक होती है और दूध पीकर सो जाने से वह कैलोरी फ्लैट में बदल जाता है.

3.यदि रात को सोने से पहले दूध पीते हैं, तो यह आपके लिवर की स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा नहीं माना जाता है. क्योंकि यह आपके लीवर के डिटॉक्सिफिकेशन की प्रक्रिया में बाधा उत्पन्न करता है. जिसकी वजह से लिवर में मौजूद गंदगी बाहर नहीं निकल पाती है और समस्या पैदा करती है.

4.इसके अलावा 1 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए आजकल के फार्मूला दूध फायदेमंद होता है. फार्मूला दूध मां के दूध के बराबर ही बच्चे को फायदा देता है. एक्सपर्ट्स के अनुसार, 1 साल से कम उम्र के बच्चे को गाय का दूध नहीं देना चाहिए. वहीं 1 से 2 साल की उम्र के बच्चे को फुल फैट गाय का दूध दे सकते हैं. लेकिन दिन में ढाई से तीन कप से ज्यादा नहीं 5 से 9 साल के बच्चे को आप दिन में ज्यादा से ज्यादा ढाई कप लोफर मिल्क दे सकती हैं. 9 से 18 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए एक रिंग कम-से-कम 2 कप से अधिक कम फैट वाला मलाई रही तो दूध पीने की सलाह नहीं दी जाती है.

5.दूध से बनी चीजें दूध के अलावा आप छोटे बच्चों को दूध से बनी चीजें जैसे पनीर, योगर्ट दे सकती हैं. यह सभी चीजें हाई प्रोटीन आहार है, जिसको दूध से रिप्लेस किया जा सकता है. आप इन चीजों से एक स्वादिष्ट भोजन भी बना सकती हैं. जो बच्चों को काफी पसंद आता है और इसके साथ-साथ पोषण से भरपूर भी होता है जो बच्चों के शरीर में पोषक तत्वों की कमी नहीं होने देगा.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताएं और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरुर कर लें. इस पोस्ट को पढने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments