तेजी से बढ़ रहे हैं डेंगू के मामले, जानिए लक्षण और घरेलू उपचार, नहीं तो पड़ जाएंगे बीमार

कल्याण आयुर्वेद - बरसात के इस मौसम में दिल्ली समेत देशभर के कई राज्यों में डेंगू के मामले बहुत ही तेजी से बढ़ते जा रहे हैं. बीते 15 दिन में दिल्ली-एनसीआर में डेंगू के मामले में काफी उछाल देखा गया है. पिछले एक हफ्ते में दिल्ली में 100 से अधिक मामले सामने आए हैं. इसके अलावा यूपी और बिहार में भी डेंगू के डंक में कहार बरपा रखा है. सैकड़ों लोग इसकी चपेट में आ रहे हैं, वैसे तो बोलने में या आम लगता है लेकिन यह बहुत ही बड़ी समस्या है जो आपको खतरनाक स्थिति में लाकर खड़ा कर देता है. इसलिए आपको इससे बचना बहुत जरूरी है.

तेजी से बढ़ रहे हैं डेंगू के मामले, जानिए लक्षण और घरेलू उपचार, नहीं तो पड़ जाएंगे बीमार

अगर आप इनसे बचना चाहते हैं, तो इसके लिए यह जानना बहुत ही जरूरी है, कि डेंगू से कैसे बचा जा सकता है. और यह आखिरी फैलता कैसे हैं. अगर किसी को डेंगू हो जाए तो उसके शरीर में क्या लक्षण दिखाई देते हैं और इसके लिए आप क्या घरेलू उपचार अपना सकते हैं. इन सभी चीजों के बारे में जाने के लिए इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़ें.

कैसे फैलता है डेंगू -

बारिश के बाद अब तक कई जगहों पर जलभराव हो जाता है, जो मच्छरों का घर बन जाता है. मादा एडीज मच्छर के काटने से डेंगू की बीमारी होती है. यह मच्छर इंसान को दिन के समय काटते हैं. यानी कि आपको बारिश के मौसम में ज्यादा ध्यान देने की जरूरत होती है और ऐसी जगहों पर जहां पानी जमा होता है. वहां जाने से बचना चाहिए. साथ ही घर में किसी भी जगह पर बारिश के पानी को जमने ना दे.

डेंगू के लक्षण -

डेंगू के लक्षण मच्छर के काटने की तीन से चार बार दिखने लगते हैं. जिसमें सिर दर्द, मांसपेशियों में दर्द, जी मिचलाना, हड्डियों में दर्द होना, उल्टी, जोड़ों में दर्द, आंखों के पीछे दर्द, ग्रंथियों में सूजन और त्वचा पर लाल चकत्ते पड़ना भी शामिल है. इसके साथ ही आपको ठंड लगने के साथ-साथ इस बुखार भी हो सकता है. इन सबके अलावा आपके शरीर में मौजूद प्लेटलेट के अकाउंट काफी तेजी से कम होने लगते हैं. यदि आपको अपने शरीर में ऐसे लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो हो सकता है कि आपको डेंगू इंफेक्शन हो गया है. इसलिए आप नीचे दिए गए घरेलू उपचारों को अपनाएं तथा डॉक्टर से संपर्क करें.

डेंगू के घरेलू उपाय -

1.नीम के पत्तों का रस पिएं, इससे प्लेटलेट्स और वाइट ब्लड सेल्स की संख्या में वृद्धि होती है. इसके अलावा आप चाहे तो गिलोय का सेवन कर सकते हैं. गिलोय को उबालकर काढ़ा बनाकर सेवन करें. यह आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है और डेंगू वायरस से लड़ने का काम करता है.

2.तुलसी की पत्तियां शरीर से टॉक्सिन पदार्थ को बाहर निकालने का काम करते हैं. इसके अलावा तुलसी की पत्तियों का काढ़ा या चाय बनाकर सेवन कर सकते हैं और इसके बीजों का सेवन भी किया जा सकता है.

3.तुलसी की जगह आप पपीते का सेवन भी कर सकते हैं. पपीता एक ऐसा फल है, जो बड़ी आसानी से उपलब्ध होता है और साथ ही काफी सस्ता भी होता है. इसलिए आपको पपीते का सेवन करना चाहिए. इसमें ऐसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो प्लेटलेट के काम को बढ़ाते हैं.

4.मेथी के पत्ते भी बुखार को कम करने का काम करते हैं और डेंगू के दौरान जो बुखार होता है, उसके साथ ही आपको शरीर में दर्द की दिक्कत नहीं होती है, तो इस दिक्कत से छुटकारा दिलाने में भी मेथी के पत्ते उपयोगी होते हैं.

5.संतरे के जूस में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, जो डेंगू वायरस को नष्ट करने के लिए जाने जाते हैं. ऐसे में आपको संतरे के जूस का सेवन करना चाहिए. यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है.

6.डेंगू के मरीजों को नारियल पानी का सेवन भी जरूर करना चाहिए, इसमें मौजूद मिनरल्स और इलेक्ट्रोलाइट जैसे पोषक तत्व शरीर को मजबूत बनाते हैं और शरीर को अंदर से स्ट्रांग रखने में मदद करता है.

7.पके कद्दू को पीसकर उसमें एक चम्मच शहद मिलाकर इसका सेवन करने से भी फायदा मिलता है. इसकी जगह आप एलोवेरा जूस का सेवन कर सकते हैं. दो से तीन चम्मच एलोवेरा जूस को पानी में मिलाकर पीने से डेंगू की बीमारी ठीक हो जाती है.

डेंगू से बचने के उपाय -

अपने आसपास जलभराव ना होने दें. अगर आप पास पानी जमा हो तो उसमें मिट्टी भर दे. ऐसा करना संभव नहीं है तो उसने मिट्टी के तेल की बूंदे डाल दें. बरसात के मौसम में खुला पानी ना पिए. पानी को हमेशा ढक कर रखने की कोशिश करें. रात को सोते वक्त रोजाना मच्छरदानी का इस्तेमाल जरूर करें या फिर मॉस्किटो रिफिल लगाएं.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments