कंप्यूटर जैसा तेज दिमाग चाहिए ? तो आज से ही खाना शुरू कर दें ये 5 ड्राई फ्रूट, मिलेंगे जबरदस्त फायदे

कल्याण आयुर्वेद - ब्रेन हमारी बॉडी का सबसे अहम हिस्सा होता है. यह उन सूचनाओं को नियंत्रित करता है. जिन्हें शरीर को कार्य करने की जरूरत होती है. इसमें ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करना नर्वस सिस्टम को नियंत्रित करना डाइजेशन में मदद करना शामिल है. आपको यह नहीं भूलना चाहिए, कि हमारा ब्रेन एक्शन और रिएक्शन को कंट्रोल करने और कॉल डिलीट करने में मदद करता है, जो महसूस करने और सोचने की शक्ति देता है.

कंप्यूटर जैसा तेज दिमाग चाहिए ? तो आज से ही खाना शुरू कर दें ये 5 ड्राई फ्रूट, मिलेंगे जबरदस्त फायदे

इसलिए जरूरी है कि दिमाग को सेहतमंद रखा जाए, जब हम ब्रेन हेल्थ की बात करते हैं तो ड्राई फ्रूट इसको हेल्दी बनाए रखने में अहम रोल निभाते हैं. दिमाग के अच्छे स्वास्थ्य के लिए कई मेवे मौजूद हैं, जिन्हें आप अपनी डेली डाइट में शामिल कर सकते हैं.

1.बादाम -

सबसे पहले बात करेंगे बादाम के बारे में. बादाम दिमागी सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है. बादाम में प्रोटीन, फाइबर, विटामिन ई, कैल्शियम, कॉपर और मैग्नीशियम की भरपूर मात्रा पाई जाती है. यह ड्राई फ्रूट दिमाग की सेहत के लिए एक बेहतरीन ड्राई फ्रूट की तरह काम करता है. यकीनन बादाम उम्र से संबंधित मेमोरी लॉस से जुड़े हैं. अगर आप भूले हुए या भीगे हुए बादाम का सेवन करते हैं या अनाज या अन्य फलों के साथ मिलाकर इसका सेवन करते हैं, तो यह दिमाग के लिए सबसे अच्छे ड्राई फ्रूट में से एक बन जाता है.

2.अखरोट -

जब दिमाग के लिए सबसे अच्छे सूखे मेवों की बात आती है तो अखरोट पहले नंबर पर होता है. क्योंकि अखरोट डी एच ए पॉलीअनसैचुरेटेड, ओमेगा 3 फैटी एसिड, विटामिन, प्रोटीन, मिनरल्स, एंटीऑक्सीडेंट और पॉलीफेनॉल से भरपूर होते हैं. स्टडीज से पता चलता है कि अखरोट खाने से सीखने के कौशल और याददाश्त में सुधार होता है. जिससे चिंता कम होती है, जो लोग नियमित रूप से अखरोट का सेवन करते हैं. उन्हें मृत्यु दर 20% कम हो जाती है. इसलिए रोजाना लगभग 6 से 1 पॉइंट 1 ग्राम ओमेगा 3 फैटी एसिड का सेवन करना चाहिए

3.हेज़लनट -

हेज़लनट विटामिन, मिनरल, एंटीऑक्सीडेंट और हेल्दी फैट्स से भरपूर होते हैं, जो आपके दिमाग को सक्रिय और स्वस्थ बनाए रखने के लिए जरूरी होते हैं. इस स्टडी से यह पता चलता है कि विटामिन ई लोगों की उम्र के रूप में संज्ञानात्मक गिरावट को धीमा करने में अहम भूमिका निभाता है, जो आपको अल्जाइमर डिमेंशिया और पार्किसन्स से जैसी बीमारियों से निपटने में मदद करता है.

4.मूंगफली -

ब्रेन की हेल्थ के लिए मूंगफली बहुत ही अहम माना जाता है, जो नियासिन विटामिन बी और विटामिन सी से भरपूर होता है. मूंगफली को न्यूरॉनल विकास और वायबिलिटी का एक प्रमुख घटक माना जाता है. इसके अलावा मूंगफली को अल्जाइमर, पार्किसन्स, स्पाइनल मस्कुलर, अट्रॉफी आदि जैसे न्यूरोडीजेनरेटिव रोगों को ठीक करने में अहम भूमिका निभाने के लिए जाना जाता है.

5.सूखे अंजीर -

सूखे हुए अंजीर सभी तरह के लोगों के लिए फायदेमंद होता है. यह सभी उम्र के पुरुषों और महिलाओं के बीच पसंदीदा ड्राई फ्रूट है, इन्हें नाश्ते के रूप में खाया जाता है या कई व्यंजनों में इस्तेमाल किया जाता है और कभी-कभी पीने वाले पदार्थों में भी मिलाया जाता है. ऐसा इसलिए है क्योंकि यह मस्तिष्क के स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है. सूखे अंजीर मैग्नीशियम का उत्कृष्ट सोर्स माने जाते हैं. जिन्हें यह 100 ग्राम में 68 मिलीग्राम होता है. स्टडी से यह पता चला है कि सूखे हुए अंजीर को अपनी डाइट में शामिल करने से तनाव, अवसाद और माइग्रेन जैसी विभिन्न मानसिक स्वास्थ्य अतिथियों को कम करने में मदद मिलती है.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments