एबॉर्शन के बाद बरतनी चाहिए जरूरी सावधानियां, इस तरह करें डाइट में बदलाव

कल्याण आयुर्वेद - गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने एक केस की सुनवाई करते हुए कहा कि अविवाहित युवतियां महिलाएं पुरुष बाद का अधिकार है. कोर्ट ने कहा कि विवाहित महिला की तरह ही अविवाहित युवतियां भी बिना किसी की मंजूरी के 24 हफ्ते तक एमटीपी एक्ट के तहत कर बात करा सकती है. गर्भपात शारीरिक और मानसिक दोनों लेवल पर कष्टदायक होता है. गर्भपात के बाद महिलाओं को अपने सेहत का खास ध्यान रखना चाहिए.

एबॉर्शन के बाद बरतनी चाहिए जरूरी सावधानियां, इस तरह करें डाइट में बदलाव

कई कारणों की वजह से गर्भपात हो सकता है. कुछ लोग जानबूझकर गर्भपात करवाते हैं तो वहीं कुछ नहीं लोगों का मिसकैरेज हो जाता है. ऐसे में सेहत का ध्यान रखना बहुत जरूरी हो जाता है. आज की पोस्ट में हम आपको बताएंगे की गर्भपात के बाद आपको अपनी सहरसा किस तरीके से ख्याल रखना है.

1.अच्छी और बैलेंस डाइट -

जिन महिलाओं का हाल ही में गर्भपात हुआ है, उन्हें अपनी डाइट में हरी पत्तेदार सब्जियां, अदरक, लहसुन, सूखे मेवे और दूध को अवश्य शामिल करना चाहिए. इसके साथ ही जंक और प्रोसेस्ड फूड तथा ड्रिंक का सेवन बिल्कुल भी ना करें. इसके अलावा आप डॉक्टर से सलाह लेकर विटामिन डी और कैल्शियम सप्लीमेंट ले सकती हैं.

2.गर्म पानी पिएं -

गर्भपात के बाद शरीर में पानी की कमी हो जाती है. इस कमी को पूरा करने के लिए आपको गर्म पानी का सेवन करना चाहिए. हाइड्रेटेड रहने के लिए गर्म पानी का सेवन करना फायदेमंद होता है. इसके अलावा भी इसके और भी कई फायदे होते हैं.

3.हैवी काम ना करें -

जिस तरीके से प्रेगनेंसी के दौरान काम करने से मना होता है. ठीक उसी प्रकार गर्भपात हो जाने के बावजूद भी हैवी काम करने से बचना चाहिए. हैवी काम जैसे कपड़े धोना, बर्तन धोने और पानी की बाल्टी उठाना, इन सभी कामों को करने से बचें. इस दौरान आपको पर्याप्त आराम की जरूरत होती है. इसके अलावा कम से कम 8 घंटे की नींद अवश्य लें.

4.बॉडी मसाज करें -

आराम के साथ-साथ बॉडी की मालिश करना बहुत ही अच्छा विचार हो सकता है. इसके लिए आप सरसों के तेल या फिर तिल के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं. इन सबके अलावा आप को शांत और तनावमुक्त भी रहना बहुत जरूरी है. इसके लिए आप मेडिटेशन योगा कर सकती हैं और बॉडी मसाज करना बहुत ही फायदेमंद है. इससे भी तनाव कम होता है.

डाइट में इन चीजों को शामिल करें -

1.कैल्शियम -

अपनी डाइट में कैल्शियम को शामिल करें. कैल्शियम को प्राप्त करने के लिए आपको डाइट में तो सूखे मेवे, सीफूड, दूध, डेयरी प्रोडक्ट और हरी पत्तेदार सब्जियों को शामिल करना चाहिए.

2.आयरन और विटामिन सी -

पालक, खजूर, कद्दू और चुकंदर जैसी चीजों को शामिल करके आप आयरन और विटामिन सी की भरपूर मात्रा पा सकती है.

3.फोलिक एसिड -

फोलिक एसिड को प्राप्त करने के लिए आप अपनी डाइट में एवोकाडो, बादाम और अखरोट जैसी चीजों को शामिल करें.

4.साबुत अनाज -

साबुत अनाज के रूप में आप ब्राउन राइस, कविनोवा, ओट्स और दलिया जैसे फाइबर युक्त साबुत अनाज का सेवन करें.

5.फैट युक्त दूध और मीट -

इसके लिए आप मक्खन, कच्चा दूध और बीफ का सेवन कर सकती हैं.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments