महिला कामोत्तेजना क्या है ? जानिए इसके चरण और बढ़ाने के तरीके

कल्याण आयुर्वेद - यौन संबंध बनाने की इच्छा और उसके लिए तैयार होने की अवस्था को कामोत्तेजना कहा जाता है. पुरुषों की तरह महिलाओं में भी कामोत्तेजना के संकेत नजर आ सकते हैं अगर सिर्फ महिला के कामोत्तेजना की बात करें, तो उनके स्तनों के आकार में बदलाव और वजाइना में ढीलापन महसूस होता है. यह सभी महिला कामोत्तेजना के विभिन्न चरण भी होते हैं. आज के इस पोस्ट में हम इसके बारे में विस्तार से बात करने जा रहे हैं आज हम आपको महिला कामोत्तेजना क्या होता है ? इसके संकेत चरण और इसे बढ़ाने के तरीके के बारे में विस्तार से बताएंगे.

महिला कामोत्तेजना क्या है ? जानिए इसके चरण और बढ़ाने के तरीके

आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से -

महिला कामोत्तेजना क्या है ?

सेक्स के लिए इच्छा पैदा होने की अवस्था को काम में क्या कहा जाता है. वही जब कोई महिला जॉन रूप से उत्तेजित या रोमांचित होती है तो उसमें भावनात्मक और शारीरिक रूप से कई बदलाव होते हैं महिला के ब्लड वेसल्स ब्रेन और हार्मोन तेजी से काम करने लगते हैं उनके विचारों और भावनाओं में बदलाव के साथ ही वजाइना में भी अलग तरह से बदलाव होते हैं इस अवस्था को महिला कामोत्तेजना कहा जाता है.

महिला कामोत्तेजना के लक्षण -

1.महिला के सेक्स वाली उत्तेजित होने पर वह शारीरिक संबंध बनाने पर कई तरह के बदलाव नजर आते हैं जो निम्न प्रकार से हो सकते हैं.

2.महिला के पर्स और हार्ड रेट में थोड़ी वृद्धि होती है और ब्लड प्रेशर भी थोड़ा तेज हो जाता है इस प्रक्रिया को पूरी तरह से सामान्य माना गया है.

3.ब्रेस्ट का साइज थोड़ा बढ़ जाता है.

4.जेनिटल्स को लुब्रिकेट करने में मदद करने के लिए वजाइना में गिरा पर आ जाता है.

5.ब्लड फ्लो अधिक होने के कारण योनि के कुछ ऐसे जैसे लोबिया यानी वजाइना लिप्स में हल्की सी सूजन आ सकती है.

6.वजाइनल कैनाल थोड़ी फैल सकती है.

7.निप्पल सीधे और सख्त हो सकते हैं.

महिला कामोत्तेजना के चरण क्या है -

ब्रिटेन की नेशनल हेल्थ सर्विस में कामोत्तेजना को चार चरणों में बांटा है. सेक्स करने से पहले, सेक्स के दौरान और उसके बाद शरीर इन चार चरणों से होकर गुजरता है.

1.एक्साइटमेंट -

इस स्टेज में महिला के शरीर में कई शारीरिक परिवर्तन आते हैं. इस स्तर में योनि को सेक्स के लिए तैयार होने में मदद मिलती है. उदाहरण के लिए योनि का सूखापन खत्म हो जाता है. क्योंकि ग्लैंड में लुब्रिकेटिंग फ्लूड का निर्माण होता है जैसे-जैसे महिला के ब्लड वेसल्स खेलते हैं. वैसे वैसे योनि में हल्की सूजन आ जाती है. इतना ही नहीं निप्पल भी छूने से सेंसिटिव हो सकते हैं.

2.प्लेटो -

ऑर्गेज्म से पहले के स्टेज को प्लेटो यानी योन उत्थान स्टेज के रूप में जाना जाता है. इस दौरान महिला की उत्तेजना धीरे-धीरे बढ़ने लगती है. इस स्थिति में वेजाइना टाइट हो सकती है. वह अधिक लुब्रिकेशन का निर्माण हो सकता है.

3.ऑर्गेज्म -

अक्सर ऑर्गैस्मिक को सेक्स की अंतिम स्टेज के रूप में देखा जाता है. लेकिन यह होना जरूरी नहीं है और गैस में तक पहुंचे बिना आनंददायक सेक्स करना पूरी तरह से संभव है और ऑर्गेज्म मांसपेशियों में ऐंठन हो सकती है. खासतौर से पीठ के निचले हिस्से और पेल्विक एरिया में इस स्टेज पर महिला की योनि टाइट और सेक्स के लिए अधिक लुब्रिकेट हो सकती है. यह चरण उत्साह और आनंद की भावना से जुड़ा है.

4.सेक्स स्टेबिलिटी -

ऑर्गैस्मिक के बाद महिला की मांसपेशियां रिलैक्स मोड में आ जाती है और ब्लड प्रेशर की पूरी तरीके से सामान्य हो जाता है. इस समय जब महिला लाइट और इसको टच करती है तो उसे सेंसिटिव या हल्का दर्द महसूस हो सकता है. एक बार इस चरम पर पहुंचने के बाद महिला का फिर से और गैस में तक पहुंचना मुश्किल हो सकता है.

महिलाओं में कामोत्तेजना कैसे बढ़ाएं -

यदि आप अपने महिला पार्टनर को उत्तेजित करने की कोशिश कर रहे हैं, तो इसमें आपको फोरप्ले करना चाहिए. यह आपकी बहुत मदद करेगा यौन उत्तेजना को बढ़ाने के लिए फॉर प्ले करना सबसे फायदेमंद हो सकता है. इसके बारे में नीचे बिंदु बार समझाया गया है.

1.महिला पार्टनर के साथ सेक्स करने से पहले प्यार भरी बातें करने से यौन इच्छा में वृद्धि होती है. 

2.महिला को अपनी बाहों में भर कर उससे प्यार जताया जा सकता है. 

3.महिला पार्टनर के होंठ, गाल और गर्दन पर किस किया जा सकता है. 

4.महिला के निप्पल को टच करना भी फोरप्ले का माना गया है. 

5.महिला के संवेदनशील अंगों को प्यार से टच करना भी सही विकल्प होता है.

महिला कामोत्तेजना क्या है ? जानिए इसके चरण और बढ़ाने के तरीके

सारांश -

कामोत्तेजना शरीर में होने वाली शारीरिक परिवर्तनों को बताता है. यह तब होता है जब कोई सेक्सुअली एक्टिव में करता है. पुरुषों में यौन उत्तेजना के लक्षण साफ दिखाई देते हैं. ठीक उसी प्रकार महिलाओं में भी यौन उत्तेजना के लक्षण दिखते हैं. महिलाओं में कामोत्तेजना के लक्षण के रूप में प्राइवेट पार्ट में ब्लड का फ्लो बढ़ जाता है. ब्रेस्ट हार्ड हो जाता है और वजाइना में ढीलापन महसूस होता है.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताएं और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments