एंग्जाइटी ने कर रखा है परेशान ? इन घरेलू उपायों से दूर करें घबराहट

कल्याण आयुर्वेद - एंग्जाइटी का मतलब डर और बेचैनी कि वह भावना है, जिसका सामना आपको अक्सर करना पड़ता है. इसके शुरुआती लक्षणों में अचानक पसीना आना, बेचैनी और तनाव महसूस करना दिल की धड़कन तेज होना जैसे लक्षण शामिल है. ज्यादातर मामले में तनाव की एक सामान्य प्रतिक्रिया है. जब कोई एग्जाम देने से पहले या जिंदगी का कोई अहम फैसला लेने से पहले कठिन समस्या का सामना करता है, तो वह चिंतित महसूस करता है. आइए जानते हैं कि प्राकृतिक तरीकों से इन्हें कैसे दूर किया जा सकता है.

एंग्जाइटी ने कर रखा है परेशान ? इन घरेलू उपायों से दूर करें घबराहट
तो चलिए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से -

1.शराब पीना छोड़ दें -

स्वस्थ रहने के लिए शराब पीना छोड़ देना बहुत जरूरी होता है. शराब सेहत के लिए कितना हानिकारक होता है. यह बात हम सभी जानते हैं. लेकिन उसके बावजूद भी ज्यादातर लोग इसका सेवन करते हैं. शराब का सेवन करने से कई समस्याएं होती हैं. दुनियाभर में हुए कई रिसर्च और वैज्ञानिकों के मुताबिक, शराब के सेवन और एंग्जायटी डिसऑर्डर के बीच एक गहरा कनेक्शन होता है, जो लोग ज्यादा या रेगुलर शराब पीते हैं, उनको कई सारी हेल्थ प्रॉब्लम हो सकती है. जैसे नींद के पैटर्न में बदलाव आना और चिंता का बढ़ जाना, इस बुरी लत से आज ही तौबा कर लें.

2.बैलेंस डाइट -

अक्सर हमारी खराब फूड हैबिट के कारण भी एंग्जायटी की समस्या होती है. अगर आप लो ब्लड शुगर डिहाइड्रेशन का सामना कर रहे हैं या फिर ज्यादा जंक फूड का सेवन कर रहे हैं. ऐसे में आप एंजाइटी के शिकार हो सकते हैं. इससे बचने के लिए आप डायटिशियन की सलाह ले सकते हैं और बैलेंस डाइट को अपनी आदत बनाएं. बैलेंस डाइट में ऐसे खाद्य पदार्थ होते हैं, जिनसे आपको रोजाना के जरूरी के हिसाब से सभी पोषक तत्व जरूरी मात्रा में मिल जाएंगे.

3.हेल्थी लाइफस्टाइल -

अपना सेहतमंद लाइफस्टाइल का पालन करना न केवल आपको बीमारियों से बचाता है. बल्कि आपकी पूरे हेल्थ के लिए अच्छा और जरूरी होता है. लेकिन ज्यादातर लोगों के पास इतना टाइम नहीं होता है, कि वह अपने लाइफ स्टाइल पर ध्यान दें. फिर भी आपको ध्यान देने की पूरी कोशिश करनी चाहिए. अगर आप एंग्जायटी की समस्या से परेशान हैं, तो आपको रोजाना के आदतों में एक्सरसाइज करना, अच्छी नींद लेना और संतुलित आहार खाना शामिल करें. ऐसे में आप मेंटल प्रॉब्लम से राहत पा सकते हैं.

4.मेडिटेशन -

मेडिटेशन भी एक बहुत ही अच्छा उपाय है, जो आपके मेंटल हेल्थ के लिए फायदेमंद होता है. दुनिया भर के लोग चिंताओं से मुक्ति पाने के लिए मेडिटेशन के तरीकों को अपनाते हैं. इससे बॉडी और माइंड दोनों को राहत मिलती है. आप एंग्जाइटी, तनाव और डिप्रेशन को भगाने के लिए मेडिटेशन जरूर करें. इसके अलावा कई तरह के एक्सरसाइज कर सकते हैं, जो आपको तनाव से राहत दिलाने में मदद करता है और एंग्जाइटी की समस्या को भी दूर करता है.

5.अरोमा थेरेपी -

अरोमाथेरेपी को सुगंध चिकित्सा भी कहते हैं. इसमें थैरेपीयूटिक बेनिफिट्स जैसे मेंटल हेल्थ के लिए एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल किया जाता है. इसके कई फायदे होते हैं जैसे माइंड और बॉडी का रिलैक्स हो जाना, मूड बेहतर हो जाना, अच्छी नींद आना, दिल की धड़कनों का नॉरमल होना, ब्लड प्रेशर मेनटेन होना.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments