मोबाइल फोन हमारी आंखों को कैसे नुकसान पहुंचाते हैं ? जानिए बचाव के कुछ आसान तरीके

हेल्थ डेस्क- आजकल हर किसी के हाथ में मोबाइल हो गया है. हालांकि आज के व्यस्त जिंदगी में मोबाइल तो बहुत जरूरत की चीज हो गई है. लेकिन इसका इस्तेमाल ज्यादातर लोग टाइमपास के रूप में भी करते हैं. हालांकि मोबाइल से बहुत तरह की जानकारियां तो प्राप्त होती है लेकिन अधिक मोबाइल का इस्तेमाल करना सेहत के लिए नुकसानदायक होने के साथ ही हमारी आंखों के लिए भी काफी नुकसानदायक हो सकता है जब हम इसका इस्तेमाल अधिक करते हैं. आज हम इस लेख के माध्यम से आपको मोबाइल से आंखों को कैसे नुकसान होता है और इससे बचाव के कुछ आसान तरीकों के बारे में बात करेंगे.

मोबाइल फोन हमारी आंखों को कैसे नुकसान पहुंचाते हैं ? जानिए बचाव के कुछ आसान तरीके

आज के इस टेक्नोलॉजी की दुनिया में मनुष्य पूरी तरह से बदल चुका है. आज छोटे बच्चे से लेकर बड़े- बुजुर्ग तक सभी टेक्नोलॉजी की चपेट में आ चुके हैं. सुबह आंख खुलने से लेकर रात को आंख बंद करने तक ज्यादातर हमारा समय मोबाइल, टीवी या फिर लैपटॉप, कंप्यूटर पर बितता है जो हमारे आंखों के लिए काफी नुकसानदायक हो सकता है ?

डायबिटीज के मरीजों को रात में सोने से पहले जरूर करना चाहिए ये काम

मोबाइल फोन हमारी आंखों को कैसे नुकसान पहुंचाते हैं ?

मोबाइल फोन हमारी आंखों को कैसे नुकसान पहुंचाते हैं ? जानिए बचाव के कुछ आसान तरीके
मोबाइल, टेलीविजन, लैपटॉप या फिर कंप्यूटर की स्क्रीन से हानिकारक नीली रोशनी निकलती है जो हमारी आंखों को बहुत ज्यादा प्रभावित करती है. यह नीली रोशनी का जहर हमारी आंखों की रोशनी को धुंधला किए जा रहा है. सामान्यतः प्रति मिनट 12 से 14 बार आंखें झपकती है लेकिन जब हम मोबाइल स्क्रीन पर बने रहते हैं तो सिर्फ 6 से 7 बार ही आंखें झपकती है. इससे आंखों में सूखापन बढ़ रहा है और आंखें कमजोर हो रही है. जिससे कई प्रकार की समस्याएं हमारी आंखों में उत्पन्न होने लगती है. जैसे-

1 .आंखों का पानी सूखना-

मोबाइल फोन हमारी आंखों को कैसे नुकसान पहुंचाते हैं ? जानिए बचाव के कुछ आसान तरीके
लगातार मोबाइल स्क्रीन पर लगे रहने से हमारी आंखों पर बहुत ज्यादा दबाव पड़ता है जिसके कारण आंखों का पानी सूखा जा रहा है जिससे आंखों में जलन और खुजली की समस्या होने लगती है. ऐसा लगातार करने से आंखों की अश्रु ग्रंथि पर बुरा प्रभाव पड़ता है. इसके अलावा आंखों की पुतलियां और नसें भी सिकुड़ने लगती है. इससे आंखों की रोशनी के साथ-साथ सिर दर्द की समस्या भी परेशान करने लगती है.

2 .आंखों से धुंधला दिखाई देना-

मोबाइल फोन हमारी आंखों को कैसे नुकसान पहुंचाते हैं ? जानिए बचाव के कुछ आसान तरीके
मोबाइल फोन की स्क्रीन पर ज्यादा देर तक आंखों का टीका रहने के कारण आंखों में धुंधला दिखाई देना आम समस्या हो गई है. देर रात तक मोबाइल इस्तेमाल करने से स्क्रीन की रोशनी सीधे आंखों पर पड़ती है और आंखों को इससे बहुत ज्यादा दबाव पड़ने के कारण यह समस्या होने लगती है.

3 .रेटीना पर अटैक-

मोबाइल फोन हमारी आंखों को कैसे नुकसान पहुंचाते हैं ? जानिए बचाव के कुछ आसान तरीके
अगर आप रात में अधिक देर तक मोबाइल फोन के स्क्रीन पर देखते रहते हैं तो उससे निकलने वाली रोशनी सीधे हमारी आंखों की रेटिना पर असर डालती है. इससे आंखें जल्दी खराब होने लगती है और देखने की क्षमता धीरे-धीरे कम होने लगती है.

4 .आंखों का लाल होना-

मोबाइल फोन हमारी आंखों को कैसे नुकसान पहुंचाते हैं ? जानिए बचाव के कुछ आसान तरीके
लगातार मोबाइल की स्क्रीन पर देखते रहने से आंखों का सफेद भाग लाल होने लगता है. जिससे आंखों की रोशनी प्रभावित होने के साथ-साथ जलन और खुजली जैसी समस्याएं भी होने लगती है. आंखें हमेशा सूजी हुई भी लगती है.

आंखों को खराब कर देंगे रोजाना की ये गलतियां, आज ही छोड़ दे ऐसी आदतें

5 .आंखों पर जल्द ही चश्मा की आवश्यकता पड़ना-

मोबाइल फोन हमारी आंखों को कैसे नुकसान पहुंचाते हैं ? जानिए बचाव के कुछ आसान तरीके
आज भले ही मोबाइल फोन बहुत जरूरी हो गया है इसके बिना काम करना मुश्किल सा हो गया है. लेकिन इसका जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल करने पर आंखों में चश्मा बहुत जल्द ही लग सकता है और आगे चलकर चश्मे का नंबर भी बढ़ने लगता है. कुछ सालों के बाद आपको आंखों का ऑपरेशन कराने की भी जरूरत पड़ सकता है.

मोबाइल फोन से होने वाले नुकसान से आँखों को कैसे बचाएं ?

1 .मोबाइल को आंखों से जितना हो सके दूर रखें. इससे कुछ हद तक आँखों को सुरक्षित रखने में मदद मिलेगी. जब भी मोबाइल फोन का प्रयोग करें इस बात पर जरूर ध्यान रखें कि मोबाइल फोन एकदम आंखों के नजदीक ना हो.

रोजाना सुबह खाली पेट खजूर खाने की डालें आदत, शरीर को मिलेंगे चौंकाने वाले फायदे

2 .अक्सर रात को लोग ज्यादा देर तक मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते हैं. देर रात तक मोबाइल फोन इस्तेमाल करने से नींद खराब होती है और बाद में यह आदत सी बन जाती है. इससे आंखों के नीचे डार्क सर्कल इत्यादि होने के साथ ही आई साइट पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है.

3 .मोबाइल फोन का प्रयोग करते समय 20 मिनट के बाद कम से कम 20 सेकंड का ब्रेक जरूर लें. इससे आंखों को काफी राहत मिलेगी.

4 .अपने मोबाइल फोन का प्रयोग करते समय स्क्रीन की ब्राइटनेस कम रखें. इससे आंखों पर दबाव कम पड़ेगा.

5 .मोबाइल में दिए गए आईकॉम्फोर्ड ऑप्शन को चालू करके रखें. इससे आंखों पर दबाव कम पड़ता है.

6 .जितना हो सके बिना कारण मोबाइल इस्तेमाल से बचें और हो सके तो आप आई प्रोटेक्ट ग्लास का इस्तेमाल करें इससे निकलने वाली नीली रोशनी से अपनी आंखों को बचा सकते हैं.

7 .मोबाइल और कंप्यूटर की स्क्रीन से हानिकारक नीली किरणें निकलती है जो हमारी आंखों के लिए काफी नुकसानदायक होती है इसलिए आपको इनका इस्तेमाल करते समय ब्लू लाइट ब्लॉकिंग चश्मा का इस्तेमाल करना चाहिए.

8 .आजकल सुबह उठते ही लोग मोबाइल फोन का इस्तेमाल करने लगते है जिससे आँखों पर अधिक दबाव पड़ता है क्योंकि उस समय हमारी आँखे बहुत नाजुक स्थिति में होती है. इसलिए आप ऐसा करने से बचें.

9 .आँखों को पर्याप्त आराम देने के लिए 8 घंटे की भरपूर नींद लें.

10 .दिन में 3 से 4 बार आँखों को ठंढे पानी से अच्छी तरह धोएं.

11 .खाने में दूध, मक्खन, गाजर, टमाटर, अंडे, पपीता, देसी घी और हरी सब्जियों को नियमित शामिल करें.

12 .समय- समय पर अपनी आँखों की नेत्र रोग विशेषज्ञ से चेकअप कराते रहें.

नोट- अगर आप बिना जरूरी के हर समय मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते रहते हैं तो आपको जल्द ही इस आदत से दूर रहने के बारे में विचार करना चाहिए क्योंकि मोबाइल से आंखों को काफी नुकसान होता है और आंखें हमारे लिए बहुत जरूरी अंगों में से एक है. इस खूबसूरत दुनिया को देखने के लिए आंखें बहुत जरूरी है. अब आपकी जिम्मेदारी बनती है कि इसका सुरक्षा करना आपका दायित्व है.

यह लेख शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है अधिक जानकारी के लिए योग्य डॉक्टर की सलाह लें और आंखों में किसी तरह की परेशानी नजर आए तो तुरंत ही आंखों के डॉक्टर की सलाह लें ताकि आपका आँख सुरक्षित रहे. धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments