डायबिटीज के मरीजों को रात में सोने से पहले जरूर करना चाहिए ये काम

कल्याण आयुर्वेद - पिछले कुछ समय से डायबिटीज के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं. खासकर भारत में ज्यादातर लोग डायबिटीज से पीड़ित हैं. इसलिए भारत को डायबिटीज की राजधानी भी कहा जाने लगा है. आपको बता दें कि डायबिटीज एक क्रॉनिक बीमारी है, जिसे जड़ से खत्म नहीं किया जा सकता है. लेकिन लाइफस्टाइल में बदलाव करके इसे कंट्रोल में रखा जा सकता है. डायबिटीज की समस्या तीन प्रकार की होती है. टाइप वन डायबिटीज टाइप 2 डायबिटीज और जेटशनल डायबिटीज शरीर में ब्लड शुगर लेवल बढ़ने पर डायबिटीज की समस्या का सामना करना पड़ता है. ऐसे में ब्लड शुगर लेवल को लगातार चेक करते रहे, समय पर दवाइयां लेने और रोजाना एक्सरसाइज करने से डायबिटीज को मैनेज कर सकते हैं.

डायबिटीज के मरीजों को रात में सोने से पहले जरूर करना चाहिए ये काम

1.डायबिटीज की समस्या होने पर जरूरी है कि आप सुबह उठने से लेकर रात को सोने तक अपनी सभी एक्टिविटी इस पर ध्यान दें. अगर आप भी डायबिटीज की समस्या से जूझ रहे हैं तो इसे कंट्रोल करने के लिए आपको सोने से पहले कुछ रूटीन अपनाना चाहिए. जिन्हें फॉलो करके आप अपने डायबिटीज को कंट्रोल कर सकते हैं. आज की पोस्ट में हम आपको बेड टाइम रूटिंग के बारे में बताने जा रहे हैं.

2.डायबिटीज के लगभग 50 दिन लोगों को बार-बार प्यास लगने, नसों में दर्द और अनियंत्रित भूख के कारण रात के समय सोने में काफी ज्यादा समस्या का सामना करना पड़ता है. इन सभी चीजों से छुटकारा पाने के लिए आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. लेकिन एक बार रूटिंग बनाने से भी आप इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं.

3.अच्छी नींद के लिए जरूरी है कि डायबिटीज के मरीज रात में सोने से पहले हल्के गुनगुने पानी से नहा लें और उसके बाद बैठकर थोड़ी देर के लिए किताबें पढ़ें.

4.रात में सोने से पहले कमरे की लाइट को धीमी कर ले और फोन की स्क्रीन का कम से कम इस्तेमाल करें. साथ ही जरूरी है कि कमरे में ब्लू लाइट का इस्तेमाल ना करें. इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस से निकलने वाली ब्लू लाइट दिमाग को संकुचित करने लगती है. जिससे आप लंबे समय तक जगे रहते हैं.

5.अगर आपको रात के समय सोने में दिक्कत आती है, तो जरूरी है कि आप कमरे के तापमान को मेंटेन रखें.

6.यदि थोड़ी सी आवाज से भी आपकी नींद खुल जाती है तो जरूरी है, कि आप कमरे का दरवाजा बंद करके और फोन को साइलेंट करके सोएं. इससे आपको बेहतर नींद आएगी.

बेडटाइम स्नैक्स -

डायबिटीज के मरीजों को बेड टाइम स्नैक्स लेने से बचना चाहिए. क्योंकि इससे आपका ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है. लेकिन कई बार डायबिटीज के मरीजों को रात में काफी तेज भूख लग जाती है, जिसके कारण उनकी नींद खुल जाती है. रात में भूख लगने पर जरूरी है कि डायबिटीज के मरीज है. उन्हीं चीजों का सेवन करें, ताकि उनका ब्लड शुगर लेवल में जरूरी है कि आप भेज टाइम स्नैक्स के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें.

डायबिटीज के मरीज देखने भूख लगने पर सीरियल, एवोकाडो, शुगर, योगर्ट , पीनट बटर, सैंडविच आदि चीजों का सेवन कर सकते हैं.

इसके साथ ही ध्यान दें कि रात में भूख लगने पर कम मात्रा में ही इतना का सेवन करें. वरना बहुत अधिक कैलोरी लेने के कारण आपका वजन बढ़ सकता है. साथ ही आपको रोजाना उठने के बाद अपना ब्लड शुगर लेवल मॉनिटर करना चाहिए.

अपने पैरों पर देखा गया लंबे समय तक डायबिटीज की समस्या होने पर नर्वस सिस्टम डैमेज होने लगता है. जिस कारण पैरों में संवेदनशीलता काफी कम हो जाती है. अगर आपके पैरों में कोई सेंसेशन महसूस नहीं होता है तो गांव या इंफेक्शन की समस्या का सामना करना पड़ सकता है. कई बार यह इंफेक्शन गंभीर रूप ले सकता है.

डायबिटीज के मरीजों में ब्लड शुगर लेवल बढ़ने और खराब ब्लड सरकुलेशन के कारण इंफेक्शन ठीक नहीं हो पाता है. इसी कारण डायबिटीज के मरीजों को गंभीर इंफेक्शन होने का खतरा काफी ज्यादा बढ़ जाता है. हालांकि समय पर लक्षणों का पता लगाने और ट्रीटमेंट करवाने से बचा जा सकता है. ऐसे में जरूरी है कि रात में सोने से पहले अपने पैरों पर ध्यान जरूर दें.

आपको यह जानकारी कैसी लगी ? हमें कमेंट में जरूर बताइए और अगर अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को लाइक तथा शेयर जरूर करें. साथ ही चैनल को फॉलो जरूर कर लें. इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद.

Post a Comment

0 Comments